इस मुल्क ने किया कोरोना का टीका बनाने का दावा, बाकी देशों में मची होड़

एक तरफ अमेरिका चीन की वुहान लैब पर दुनिया को मौत का वायरस देने का आरोप लगा रहा है तो दूसरी तरफ दुनिया के तकरीबन कई देशों की लैब में जिंदगी बचाने के लिए टीका बनाने की होड़ मची हुई है।

नई दिल्ली: एक तरफ अमेरिका चीन की वुहान लैब पर दुनिया को मौत का वायरस देने का आरोप लगा रहा है तो दूसरी तरफ दुनिया के तकरीबन कई देशों की लैब में जिंदगी बचाने के लिए टीका बनाने की होड़ मची हुई है। ऑस्ट्रेलिया, ब्रिटेन और जर्मनी के बाद अब इटली ने कोरोना का टीका बनाने का दावा किया है।

इटली की सरकार का कहना है कि कि उसने कोरोना वायरस महामारी का टीका (वैक्सीन) तैयार कर ली है। उसने ऐसे ऐंटी बॉडीज को ढूंढ निकाला है जिसने मानव कोशिका में मौजूद कोरोना वायरस को खत्म कर दिया है।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार रोम की संक्रामक बीमारी से जुड़े स्पालनजानी अस्पताल में इस टीके का टेस्ट किया गया और चूहे में ऐंटी बॉडीज तैयार की गई।

जिसने वायरस को कोशिकाओं को संक्रमित करने से रोक दिया। इस तरह पांच अलग- अलग टीकों के इस्तेमाल से बहुत सारे एंटी बॉडीज तैयार हुए जिसमें सबसे बेहतर परिणाम देने वाले दो एंटी बॉडीज को शोधकर्ताओं ने चुना।

ज्योतिषीय उपाय: कोरोना भागेगा दूर, इन मंत्रों का जाप करें अपनी राशि के अनुसार

टीके का इंसानों पर सफल परीक्षण

रोम के लजारो स्पालनजानी नैशनल इंस्टिट्यूट फॉर इन्फेक्शन डिजीज के शोधकर्ताओं ने कहा कि जब टीके का इस्तेमाल इंसानों पर किया गया तो देखा गया कि इसने कोशिका में मौजूद वायरस को खत्म कर दिया।  दुनिया में अब तक छह जगहों पर टीके का क्लीनिकल ट्रॉयल चल रहा है। जबकि दुनिया में 115 जगहों पर टीके की खोज हो रही है।

वायरस का टीका: कोरोना से जूझ रहे विश्व को इजरायल से उम्मीद