Top

जील्मा रूसेफ पर महाभियोग का खतरा बढ़ा, सहयोगी दल ने लिया समर्थन वापस

Admin

AdminBy Admin

Published on 30 March 2016 9:31 AM GMT

जील्मा रूसेफ पर महाभियोग का खतरा बढ़ा, सहयोगी दल ने लिया समर्थन वापस
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

ब्राजील: ब्राजील के सत्ताधारी गठबंधन को उस वक्त करारा झटका लगा जब उसके सबसे बड़े सहयोगी दल ने खुद को राष्ट्रपति जील्मा रूसेफ की सरकार से अलग कर लिया।

समर्थन वापसी का क्या होगा असर ?

-ब्राजीलियन डेमोक्रेटिक मूवमेंट पार्टी (पीएमडीबी) के मंत्री इस्तीफा देंगे।

-पीएमडीबी के इस कदम से राष्ट्रपति जील्मा रूसेफ पर महाभियोग का खतरा बढ़ गया है।

-इसके साथ ही सरकार की तरफ से नियुक्त करीब 600 अधिकारी भी अपना पद छोड़ देंगे।

-महाभियोग की प्रक्रिया चलाने वाली संसदीय कमेटी में उनके विरोधियों को अब बहुमत हासिल हो गया है।

तेजी से बदलेगा राजनीतिक घटनाक्रम

-राजनीतिक विश्लेषकों का मानना है कि चेंबर ऑफ डेपुटीज अप्रैल के मध्य में महाभियोग पर मतदान करा सकता है।

-यदि सीनेट में इसे समर्थन मिलता है तो उन्हें 180 दिनों के लिए निलंबित कर दिया जाएगा।

-संसद उनके खिलाफ ब्राजील के घाटे को छिपाने के आरोपों की जांच करेगी।

रूसेफ इन आरोपों का खंडन करती हैं

-जील्मा रूसेफ सरकारी तेल कंपनी पेट्रोब्रास के घोटाले से जुड़े आरोपों का भी सामना कर रही हैं।

-संभावना है कि वित्त मंत्री नेल्सन बारबोसा गुरुवार को संसदीय महाभियोग कमेटी को सबूत सौपेंगे।

Admin

Admin

Next Story