Top

चीन ने 7.5% बढ़ाया रक्षा बजट, जानिए भारत से कितना ज्यादा है

चीन अपने रक्षा बजट में लगातार बढ़ोत्तरी करता जा रहा है। चीन ने साल 2019 के लिए अपने रक्षा बजट में 7.5 प्रतिशत की बढ़ोत्तरी की है।चीन के नेशनल पीपल्स कांग्रेस (एनपीसी) के सालाना सत्र की मंगलवार को शुरुआत हुई जिसमें पेश ड्राफ्ट बजट रिपोर्ट में यह जानकारी दी गई।

Dharmendra kumar

Dharmendra kumarBy Dharmendra kumar

Published on 5 March 2019 6:08 AM GMT

चीन ने 7.5% बढ़ाया रक्षा बजट, जानिए भारत से कितना ज्यादा है
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली: चीन अपने रक्षा बजट में लगातार बढ़ोत्तरी करता जा रहा है। चीन ने साल 2019 के लिए अपने रक्षा बजट में 7.5 प्रतिशत की बढ़ोत्तरी की है।चीन के नेशनल पीपल्स कांग्रेस (एनपीसी) के सालाना सत्र की मंगलवार को शुरुआत हुई जिसमें पेश ड्राफ्ट बजट रिपोर्ट में यह जानकारी दी गई।

बता दें कि अमेरिका के बाद चीन दूसरा ऐसा देश है, जो अपने रक्षा बजट पर सबसे ज्‍यादा खर्च करता है। चीन का रक्षा बजट भारत से करीब तीन गुना है।

यह भी पढ़ें.....एयर स्ट्राइक पर सबूत मांगने से पहले ये जान लो कौन ‘गिनता है कि कितने मरे’

चीन ने 2019 के लिए 1.19 लाख करोड़ युआन (करीब 177.61 अरब डॉलर) का प्रतिरक्षा बजट पेश किया है। हालांकि, चीन सरकार का कहना है कि इस बार के रक्षा बजट में कम बढ़त की जा रही है। चीन सरकार ने कहा कि साल 2018 के प्रतिरक्षा बजट में 8.1 फीसदी की बढ़त की गई थी।

यह भी पढ़ें.....सिब्बल को राज्यवर्धन राठौड़ का जवाब- क्या आप बालाकोट भी जाएंगे?

चीन की सरकारी समाचार एजेंसी के अनुसार, चीन के रक्षा बजट को वाजिब और उपयुक्त बताते हुए 13वें एनपीसी के प्रवक्ता झांग येसुई ने कहा कि इस बढ़त का उद्देश्य 'चीनी विशेषताओं के साथ राष्ट्रीय सुरक्षा और सैन्य सुधारों की देश की मांग को पूरा करना है।'

यह भी पढ़ें.....गुरुग्राम: ऑपरेशन रोमियो के तहत पुलिस ने 125 युवाओं को हिरासत में लिया

प्रवक्ता ने कहा कि यह रक्षा खर्च राष्ट्रीय संप्रभुता, सुरक्षा और क्षेत्रीय अखंडता की रक्षा करने के लिए है, न कि किसी और देश को खतरा पैदा करने के लिए। येसुई ने कहा कि चीन शांतिपूर्ण विकास के रास्ते पर कायम रहेगा और ऐसी रक्षा नीति अपनाएगा जो कि रक्षात्मक प्रकृति की होगी।

Dharmendra kumar

Dharmendra kumar

Next Story