पाकिस्तान की रक्षा के लिए चीन ने भेजी ये खास फौज, पल में करेगी दुश्मनों का सफाया

पाकिस्तान का हर बुरे वक्त में साथ देने वाला उसका परम मित्र चीन एक बार फिर उसकी मदद के लिए आगे आया है। इस बार चीन ने पाकिसतान के लिए बत्तखों की सेना भेजी है।

पाकिस्तान का उसके हर बुरे वक्त में साथ देने वाला उसका परम मित्र चीन एक बार फिर उसकी मदद के लिए आगे आया है। इस बार चीन ने पाकिसतान के लिए बत्तखों की सेना भेजी है। लगातार टिड्डियों के हमले से जूझ रहे पाकिस्‍तान के लिए उसके दोस्‍त चीन ने एक बत्‍तखों की सेना भेजी है। यह बत्‍तखें इन टिडि्डयों को खाने में सक्षम हैं। पाकिस्‍तान में टिड्डियां लगातार फसलों का सफाया कर रही हैं। इससे वहां के किसान भी काफी परेशान हैं। जिनकी मदद के लिए टिड्डियां खाने वाली बत्‍तखों की सेना को चीन के पूर्वी प्रांत झेजियांग से पाकिस्‍तान भेजा जाएगा।

चीन भी झेल चुका है ऐसा

पाकिस्‍तान जिस समस्या से जूझ रहा है चीन उस समस्या से 20 साल पहले निपट चुका है। चीन के जिनजियांग में अब से करीब 20 साल पहले टिड्डियों का ऐसा ही बड़ा हमला हुआ था। जिसमें चीन ने बत्‍तखों के जरिये ही जीत दर्ज की थी। इसीलिए इन चीनी बत्‍तखों को टिडि्डयों से निपटने के लिए कारगर माना जा रहा है। झेजियांग प्रोविंशियल इंस्‍टीट्यूट ऑफ एग्रीकल्‍चरल टेक्‍नोलॉजी के रिसर्चर लू लिझी ने बताया कि बत्‍तखों का इस्‍तेमाल कम खर्चीला और पर्यावरण को नुकसान ना पहुंचाने वाला है। इसके विपरीत पर्यावरण को पेस्‍टीसाइट द्वारा अधिक नुकसान पहुंचता है। बत्‍तखों के साथ एक अच्‍छी बात यह भी है कि यह अन्‍य किसी भी पोल्‍ट्री वाले जानवरों से अधिक इस काम के लिए उपयुक्‍त हैं।

ये भी पढ़ें-दिल्ली हिंसा पर बीजेपी ने ‘आप’ को घेरा, कांग्रेस पर लगाया ये आरोप

प्रतिदिन 200 टिड्डियां खा सकती हैं बत्तख

बत्तखों की खास बात ये है कि चिकन के मुकाबले बत्‍तखें झुंड में रहती हैं। जिससे इन्‍हें संभालना आसान होता है। इसके साथ ही एक बत्‍तख प्रतिदिन 200 टिड्डियों को खाने में समर्थ होती है। वहीं चिकन सिर्फ 70 टिड्डियां खा पाता है. इसलिए बत्‍तखों में लड़ने की क्षमता करीब तीन गुना अधिक होती है।

ये भी पढ़ें- आप नेता संजीव सिंह ने कांग्रेस पार्टी सदस्यता ग्रहण की, देखें तस्वीरें
पाकिस्तान पर टिड्डियों का हमला 2019 में हुआ था। जिसकी वजह से देश में कपास की फसल बर्बाद हो गई थी। अब गेहूं के खेतों को इनसे खतरा है। टिड्डियां करोड़ों रुपये की फसल को कुछ घंटों में ही बर्बाद कर देती हैं। पाकिस्तान ने टिड्डी दल के हमले के कारण राष्ट्रीय आपातकाल का ऐलान किया है।