Top

चीन का दावा : दुनिया से खतरा टला, मालद्वीप के पास गिरा बेकाबू चीनी रॉकेट

चीनी स्पेस एजेंसी का दावा है कि अंतरिक्ष में बेकाबू हुआ चीनी रॉकेट लांग मार्च 5 बी हिंद महासागर में मालद्वीप के पास गिर गया है।

Akhilesh Tiwari

Akhilesh TiwariWritten By Akhilesh TiwariMonikaPublished By Monika

Published on 9 May 2021 7:02 AM GMT

chinese rocket segment disintegrates over indian ocean
X

चीनी रॉकेट (फोटो: सोशल मीडिया)

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्लीा: चीनी स्पेस एजेंसी का दावा है कि अंतरिक्ष में बेकाबू हुआ चीनी रॉकेट (Chinese rocket) लांग मार्च 5 बी हिंद महासागर में मालद्वीप (Maldives) के पास गिर गया है। चीन के स्पेलस मिशन का हिस्सा रॉकेट लांग मार्च 5 बी के बारे में अमेरिकी स्पे‍स कमांड के दावे से अलग चीनी स्पेस एजेंसी ने रविवार नौ मई की सुबह दावा किया है कि बेकाबू हो चुका रॉकेट का हिस्सा हिंद महासागर में गिर चुका है। एजेंसी के अनुसार रॉकेट का अधिकांश मलबा पृथ्वीर के वायु मंडल में ही नष्टॉ हो चुका है। 18 मीटर यानी 108 फुट लंबे इस हिस्सेे के जमीन पर गिरने की आशंका जताई जा रही थी। चीनी एजेंसी के अनुसार चीन के स्थारनीय समय के अनुसार रविवार सुबह दस बजकर 24 मिनट पर रॉकेट के बूस्टर ने पृथ्वी के वायुमंडल में प्रवेश किया है। रॉकेट के ज्यादातर हिस्से वायुमंडल में ही नष्टं हो चुके हैं जबकि बड़ा हिस्सा भारत और श्रीलंका के दक्षिण में मालद्वीप के निकट गिर गया है। एजेंसी के अनुसार जहां रॉकेट गिरा है वह जगह 72.47 डिग्री पूर्वी और अक्षांश 2.65 डिग्री उत्तर में स्थित है।

नक्शा (फोटो: सोशल मीडिया)

अमेरिकी सपेस कमांड ने रविवार की सुबह बताया कि यह रॉकेट अरब भू-भाग में जमीन या पानी में कहीं गिर सकता है लेकिन अब चीनी अंतरिक्ष एजेंसी का दावा है कि यह रविवार की सुबह ही हिंद महासागर में गिर चुका है। अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी और अमेरिका स्पेमस कमांड सेंटर ने हालांकि अब तक चीन के दावे की पुष्टि नहीं की है।

हिंद महासागर का नक्शा (फोटो : सोशल मीडिया )


Monika

Monika

Next Story