मलेशिया में राजमहल तक पहुंचा कोरोना, सात कर्मी पॉजिटिव, राजा-रानी आइसोलेशन में

मलेशिया के राजा के महल के 7 कर्मी कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए हैं। इस खबर के खुलासे के बाद हड़कंप मच गया है। इन कर्मियों के कोरोना वायरस से संक्रमित पाए जाने के बाद सुल्तान अब्दुल्ला सुल्तान अहमद शाह और उनकी पत्नी सेल्फ आइसोलेशन में चले गए हैं।

कुआलालम्पुर: मलेशिया के राजा के महल के 7 कर्मी कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए हैं। इस खबर के खुलासे के बाद हड़कंप मच गया है। इन कर्मियों के कोरोना वायरस से संक्रमित पाए जाने के बाद सुल्तान अब्दुल्ला सुल्तान अहमद शाह और उनकी पत्नी सेल्फ आइसोलेशन में चले गए हैं। अभी तक यह नहीं पता चल पाया है कि महल तक कोरोना वायरस का संक्रमण कैसे पहुंचा।

महल की ओर से जानकारी दी गई है कि 7 कर्मियों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। यह सभी कर्मी कोरोना से संक्रमित पाए गए हैं। स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी इस बात का पता लगाने का प्रयास कर रहे हैं कि कोरोना वायरस का संक्रमण किस स्तर तक फैला है। देश के राजा सुल्तान अब्दुल्ला सुल्तान अहमद शाह और रानी की भी जांच की गई है।

हालांकि दोनों कोरोना से संक्रमित नहीं पाए गए हैं। महल की ओर से बताया गया कि शाही दंपत्ति ने बुधवार से स्वयं को सबसे पृथक कर लिया है। जानकारों के मुताबिक अब महल को कोरोना के संक्रमण से मुक्त किया जाएगा।

मलेशिया में कोरोनाे से अब तक 21 लोगों की मौत हो चुकी है और कुल 1796 लोग इससे संक्रमित हैं। देश के लोगों को कोरोना के संक्रमण से बचाने के लिए 14 अप्रैल तक लॉकडाउन घोषित किया गया है।

ये भी पढ़ें …कोरोना वायरस की वजह से केंद्र का बड़ा फैसला, NPR अनिश्चितकाल तक स्थगित

सैकड़ों भारतीय मलेशिया में फंसे

इस बीच मलेशिया से मिली एक अन्य खबर के अनुसार अंतरराष्ट्रीय उड़ानों पर रोक लगा देने के कारण काफी संख्या में भारतीय वहां फंसे हुए हैं। मलेशिया में भारतीय उच्चायोग ने वहां फंसे हुए सैकड़ों भारतीयों के लिए स्थानीय एनजीओ और कम्युनिटी संगठन की मदद से हॉस्टलों और होटलों की व्यवस्था की है।

कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए भारत सरकार ने 22 मार्च से अंतरराष्ट्रीय उड़ानों पर रोक लगा रखी है जिस कारण ये भारतीय मलेशिया में फंस गए हैं।

इस बीच मलेशिया में भारतीय उच्चायोग की ओर ट्वीट कर मलेशिया में मौजूद सभी भारतीयों से अपील की गई है कि वे मूवमेंट को लेकर लगाए गए प्रतिबंधों का पूरी तरीके से पालन करें ताकि वे सुरक्षित रहें और स्वस्थ रहें।