Top

शैतानों की किताब: एक रात में लिखी गई ये, आज तक नहीं पता चला इसका रहस्य

शैतानों की किताब को लिखने की एक कहानी काफी प्रचलित है कि 13 वीं सदी में एक संन्यासी ने अपनी प्रतिज्ञा को तोड़ दिया था. जिसके बाद उसे दीवार में जिंदा चुनवाने की सजा मिली थी.

Chitra Singh

Chitra SinghBy Chitra Singh

Published on 3 March 2021 9:08 AM GMT

शैतानों की किताब: एक रात में लिखी गई ये, आज तक नहीं पता चला इसका रहस्य
X
शैतानों की किताब: एक रात में लिखी गई ये, आज तक नहीं पता चला इसका रहस्य
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली। हमारे देश में सभी धर्म के लोग रहते है और उन सभी धर्मों का एक ग्रन्थ होता है, जिसमें लिखी बातों का उस धर्म के लोग जिंदगीभर अनुसरण करते है. ऐसे ही ईसाई धर्म में ग्रन्थ लिखा गया है, जिसे बाइबिल कहते है. लेकिन क्या कभी आपने शैतानों की किताब के बारे में सुना है.

एक रात में लिखी गई किताब

जी हां दुनिया में एक ऐसी भी किताब बनी है जिसे शैतानों की किताब कहा जाता है. जिसका नाम डेविल्स बाइबल है. आपको जानकर आश्चर्य होगा कि इस किताब को एक ही रात में पूरा लिख दिया गया था और इस किताब के हर पन्ने पर शैतानों के चित्र बने हुए है. शैतानों के चित्रों से बनी इस किताब को शैतानी बाइबिल भी कहा जाता है. ये किताब स्वीडन के एक पुस्तकालय में रखी हुई है. जिसे देखने के लिए काफी संख्या में लोग इस पुस्तकालय में आते है.

ये भी पढ़ें... हाथरस कांड में बड़ा खुलासा: जाने क्या है मंदिर विवाद, कातिल गौरव था वहां मौजूद

आजतक रहस्यमयी बनी है ये किताब

ये किताब लोगों के मन में इसलिए भी जिज्ञासा पैदा करती है, क्योंकि इस किताब को कागज के पन्नों में नहीं बल्कि चमड़े में पन्नों में लिखा गया है. यह किताब एक रहस्यमयी भी है, क्योंकि इस किताब को किसने और क्यों लिखा है, इसका पता आजतक किसी को नहीं चल पाया है.ये आजतक रहस्य बना हुआ है.आपकों बता दें कि इस रहस्यमयी किताब को ‘कोडेक्स गिगास’ के नाम से भी जाना जाता हैं. 80 किलो से ज्यादा वजन की इस किताब में 160 पन्ने है, जो इतनी भारी-भरकम है कि इसे उठाने के लिए कम से कम दो लोगों की जरूरत पड़ती है.

Devils Bible

किताब लिखने की प्रचलित कहानी

इस किताब को लिखने की एक कहानी काफी प्रचलित है कि 13 वीं सदी में एक संन्यासी ने अपनी प्रतिज्ञा को तोड़ दिया था. जिसके बाद उसे दीवार में जिंदा चुनवाने की सजा मिली थी. इस सजा से बचने के लिए उसने इस किताब को लिखने की बात मानी. ये भी कहा जाता है वह ये किताब अकेले नहीं लिख सकता था इसलिए उसने प्रार्थना करके एक शैतान को बुलाया और उसकी मदद से इस किताब को एक रात में पूरा किया. हालांकि वैज्ञानिक इसे नहीं मानते उनका कहना है कि एक रात में चमड़े के पन्नों की किताब लिखना नामुमकिन है. इसे लिखने के लिए कम से कम 20 साल का समय लगेगा.

ये भी पढ़ें... कैसे पास होगा पप्पू: वायरल वीडियो में देखें जिम्मेदार कौन, कैसे रूकेगी नकल

रिपोर्ट- अपूर्वा चंदेल

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर Farmer massacreक्लिक करें।

Chitra Singh

Chitra Singh

Next Story