×

कोरोना में PM मोदी की पहली विदेश यात्रा, बांग्लादेश दौरा काफी महत्वपूर्ण

देश में कोरोना महामारी की दस्तक के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शुक्रवार को अपने पहले विदेश दौरे पर बांग्लादेश ...

Roshni Khan
Updated on: 26 March 2021 3:07 AM GMT
कोरोना काल में पीएम मोदी की पहली विदेश यात्रा, बांग्लादेश दौरा काफी महत्वपूर्ण
X

pm modi and sheikh hasina (PC: social media)

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

नई दिल्ली: देश में कोरोना महामारी की दस्तक के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शुक्रवार को अपने पहले विदेश दौरे पर बांग्लादेश रवाना हुए। पीएम मोदी की दो दिवसीय बांग्लादेश यात्रा के दौरान उनके स्वागत की जोरदार तैयारियां की गई हैं। पीएम मोदी का यह दौरा सियासी नजरिए से भी काफी महत्वपूर्ण माना जा रहा है।

अपनी इस यात्रा के दौरान पीएम मोदी बांग्लादेश की स्वतंत्रता की स्वर्ण जयंती और अब बंगबंधु शेख मुजीबुर रहमान की जन्म शताब्दी कार्यक्रम के साथ ही देश के दक्षिण पश्चिम में स्थित दो मंदिरों में भी पूजा-अर्चना करेंगे। पीएम मोदी के दौरे को देखते हुए इन दोनों मंदिरों में भव्य सजावट की गई है।

शेख हसीना के साथ होगी कई मुद्दों पर चर्चा

देश में विपक्ष के नेता पीएम मोदी पर देश में अपनी छवि बनाने के लिए विदेश के दौरे करने का आरोप लगाते रहे हैं। देश में पिछले साल कोरोना की दस्तक के बाद प्रधानमंत्री मोदी ने अभी तक देश के बाहर कदम नहीं रखा है। हालांकि इसका कारण कोरोना महामारी को बताया जा रहा है क्योंकि भारत ही नहीं बल्कि दुनिया के लगभग सभी देश इस महामारी से बेहाल हैं।

लंबे अरसे बाद प्रधानमंत्री शुक्रवार व शनिवार को बांग्लादेश का दौरा करेंगे। दौरे के दौरान पीएम मोदी की बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना के साथ प्रतिनिधिमंडल स्तरीय वार्ता भी होगी। माना जा रहा है कि इस वार्ता से दोनों देशों के राजनयिक रिश्तों में और मजबूती आएगी।

जानकारों का कहना है कि मोदी और शेख हसीना के बीच होने वाली वार्ता में सैन्य सहयोग को लेकर खास तौर पर चर्चा होने की संभावना है। दोनों देशों के बीच कई समझौतों पर हस्ताक्षर भी किए जाएंगे।

पीएम की यात्रा का सियासी कनेक्शन

पीएम मोदी की इस यात्रा को सियासी नजरिए से भी काफी महत्वपूर्ण माना जा रहा है क्योंकि प्रधानमंत्री अपने दौरे के दूसरे दिन जशोरेश्वरी काली मंदिर में श्रद्धासुमन अर्पित करेंगे। हिंदू समाज में इस मंदिर को काफी अहम माना जाता है और इसे 51 शक्तिपीठों में से एक माना जाता है।

शनिवार को ही प्रधानमंत्री ओराकंडी भी जाएंगे और वहां मतुआ समुदाय के लोगों से बातचीत भी करेंगे। पीएम मोदी मतुआ समुदाय के प्रतिनिधियों से वहीं पर मुलाकात करेंगे जहां इस समुदाय के गुरु श्री हरिचंद्र ठाकुर ने अपना संदेश दिया था।

मतुआ समुदाय को रिझाने की कोशिश

सियासी जानकारों का मानना है कि इस दौरे के जरिए पीएम मोदी पश्चिम बंगाल में हो रहे विधानसभा चुनाव के लिए समीकरण भी साधेंगे। माना जा रहा है कि पीएम मोदी के दौरे से भाजपा को मतुआ समुदाय को रिझाने की दिशा में बड़ी सियासी कामयाबी मिल सकती है। भाजपा पहले से ही इस समुदाय पर डोरे डालने की कोशिश में जुटी हुई है।

बांग्लादेश से पलायन करके बंगाल पहुंचने वालों में मतुआ समुदाय के लोगों की संख्या काफी ज्यादा है। पश्चिम बंगाल की 70 से ज्यादा विधानसभा सीटों पर मतुआ समुदाय की मजबूत पकड़ मानी जाती है और 21 विधानसभा सीटों पर यह समुदाय किंग मेकर की भूमिका में माना जाता है। इसी कारण पीएम मोदी के बांग्लादेश दौरे का सियासी कनेक्शन जोड़ा जा रहा है।

प्रदर्शन की धमकी के बाद कड़ी सुरक्षा

पीएम मोदी की बांग्लादेश यात्रा के दौरान सुरक्षा के कड़े प्रबंध किए गए हैं क्योंकि बांग्लादेश के हिफाजत-ए-इस्लाम जैसे कई इस्लामी कट्टरपंथी समूहों ने मोदी के बांग्लादेश दौरे के खिलाफ प्रदर्शन करने की धमकी दी है। इन संगठनों ने मोदी के दौरे का विरोध किया है।

इस्लामी संगठनों की धमकी के बाद सुरक्षा व्यवस्था को अलर्ट कर दिया गया है। प्रधानमंत्री शेख हसीना ने पीएम मोदी की यात्रा के दौरान कड़े सुरक्षा प्रबंध के निर्देश दिए हैं। उन्होंने पीएम मोदी की यात्रा को बाधित करने की कोशिश करने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने का भी निर्देश दिया है।

पीएम मोदी ने यात्रा को महत्वपूर्ण बताया

पीएम मोदी खुद भी बांग्लादेश की इस यात्रा को काफी महत्व दे रहे हैं। गुरुवार को उन्होंने एक बयान में कहा कि मैं पीएम शेख हसीना के आमंत्रण पर दो दिवसीय दौरे पर बांग्लादेश जा रहा हूं। उन्होंने कहा कि मैं इस बात को लेकर काफी खुश हूं कि कोरोना महामारी फैलने के बाद मैं पहली विदेश यात्रा के लिए किसी पड़ोसी देश में जा रहा हूं। मोदी ने हाल के दिनों में बांग्लादेश की आर्थिक प्रगति के लिए पीएम हसीना के नेतृत्व की प्रशंसा की है। जानकारों का मानना है कि पीएम मोदी की इस यात्रा के दौरान दोनों देशों के रिश्ते और मजबूत होंगे।

रिपोर्ट- अंशुमान तिवारी

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Roshni Khan

Roshni Khan

Next Story