×

EU: यूरोपियन संसद ने रूस को 'आतंकवाद का प्रायोजक देश' किया घोषित, बताई ये वजह

European Union: यूरोपीय संसद ने रूस को 'आतंकवाद का प्रायोजक राज्य' (State Sponsor of Terrorism) घोषित किया है। इसके पीछे उन्होंने कई तर्क दिए हैं।

aman
Written By aman
Updated on: 23 Nov 2022 1:01 PM GMT
european parliament declares russia state sponsor of terrorism world news
X

European Parliament (Social Media)

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

EU News : यूरोपीय संसद (European Parliament) ने रूस को 'आतंकवाद का प्रायोजक राज्य' (State Sponsor of Terrorism) घोषित किया है। अंतरराष्ट्रीय मीडिया से प्राप्त ख़बरों के अनुसार, इसके पीछे यूरोपियन संघ (European Union) का तर्क है कि मास्को के सैन्य हमलों ने उर्जा बुनियादी ढांचे (Energy Infrastructure), अस्पतालों, स्कूलों तथा आश्रयों जैसे नागरिक लक्ष्यों पर अंतरराष्ट्रीय कानून का उल्लंघन किया।

यूरोपीय संसद ने बुधवार (23 नवंबर) को रूस को आतंकवाद के एक राज्य प्रायोजक के रूप में नामित किया। रूस द्वारा सैन्य हमलों की आलोचना करते हुए यूरोपीय संघ ने उसे अंतरराष्ट्रीय कानून का उल्लंघन बताया। यूरोपीय सांसदों ने रूस को आतंकवाद का प्रायोजक देश बताने वाले प्रस्ताव के पक्ष में वोटिंग की। बता दें, यूरोपीय यूनियन का ये कदम काफी हद तक प्रतीकात्मक है। क्योंकि, यूरोपीय संघ के पास इसका समर्थन करने के लिए कोई कानूनी ढांचा नहीं है। वहीं, पहले ही यूक्रेन पर हमले को लेकर रूस पर कई प्रकार के प्रतिबंध लगाए गए हैं।

यूक्रेन ने अमेरिका सहित अन्य देशों से किया आग्रह

यूक्रेनी राष्ट्रपति वोलोडिमिर ज़ेलेंस्की (Ukrainian President Volodymyr Zelensky) ने अमेरिका सहित अन्य देशों से आग्रह किया है कि वे रूस को आतंकवाद का राज्य प्रायोजक घोषित करें। उन्होंने रूसी सेना पर आम लोगों को निशाना बनाने का आरोप लगाया। हालांकि, मास्को इसे शुरू से ही नकारता रहा है।

यूक्रेन ने अमेरिका सहित अन्य देशों से किया आग्रह

यूक्रेनी राष्ट्रपति वोलोडिमिर ज़ेलेंस्की (Ukrainian President Volodymyr Zelensky) ने अमेरिका सहित अन्य देशों से आग्रह किया है कि वे रूस को आतंकवाद का राज्य प्रायोजक घोषित करें। उन्होंने रूसी सेना पर आम लोगों को निशाना बनाने का आरोप लगाया। हालांकि, मास्को इसे शुरू से ही नकारता रहा है।

अमेरिका ने पत्ते नहीं खोले

यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोडिमिर ज़ेलेंस्की के इस प्रस्ताव पर अमेरिका ने अपने पत्ते नहीं खोले हैं। अमेरिकी विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकन ने अब तक कांग्रेस के दोनों सदनों में प्रस्तावों के बावजूद रूस को सूचीबद्ध करने से इनकार कर दिया। अमेरिकी विदेश विभाग वर्तमान में चार देशों- क्यूबा, उत्तर कोरिया, ईरान और सीरिया को आतंकवाद के राज्य प्रायोजकों के रूप में नामित करता है। इसका मतलब है कि, वे रक्षा निर्यात प्रतिबंध और वित्तीय प्रतिबंधों के अधीन हैं।

aman

aman

Next Story