Top

फ्रांस ने गूगल पर लगाया अरबों का जुर्माना, जानिए क्या है पूरा मामला

कॉपीराइट मामले में फ्रांस ने गूगल पर लगभग 44 अरब रुपये का जुर्माना लगाया है। वहीं गूगल ने इस फैसले को निराशाजनक बताया है।

Network

NetworkNewstrack NetworkShreyaPublished By Shreya

Published on 13 July 2021 5:29 PM GMT

फ्रांस ने गूगल पर लगाया अरबों का जुर्माना, जानिए क्या है पूरा मामला
X

गूगल  (फोटो साभार- सोशल मीडिया)

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

France Fine On Google: दुनिया की सबसे बड़ी सर्च इंजन कंपनी गूगल (Search Engine Company Google) पर फ्रांस (France) के बीच टकराव बढ़ता जा रहा है। अब फ्रांस ने गूगल पर अरबों रुपये का जुर्माना लगाया है। फ्रांस के एंटीट्रस्ट वॉचडॉग (Antitrust Watchdog) ने Alphabet के गूगल (GOOGL.O) पर 500 मिलियन यूरो यानी करीब 593 मिलियन डॉलर का भारी भरकम जुर्माना लगाया है।

France के एंटीट्रस्ट वॉचडॉग ने गूगल पर यह कार्रवाई पब्लिशर्स के साथ विवाद के मामले में कॉपीराइट कानून के उल्लंघन (Copyright Law Infringement) का दोषी बताते हुए की है। इसी के साथ कहा गया है कि दिग्गज टेक कंपनी को पब्लिशर्स के न्यूज उपयोग करने के बदले भुगतान करना होगा। एंट्रीट्रस्ट वॉचडॉग के मुताबिक, गूगल अस्थायी तौर पर उन आदेशों को ना मानने का दोषी है, जिसके तहत फ्रांस के न्यूज पब्लिशर्स को उनके कंटेंट को यूज करने के लिए Google को मुआवजा देना है।

गूगल (फोटो साभार- सोशल मीडिया)

गूगल को दिया गया दो महीने का समय

इस मामले में फ्रांस की ओर से गूगल को दो महीने का वक्त दिया गया है। कंपनी को दो महीने के अंदर यह बताना होगा कि वो न्यूज एजेंसियों और पब्लिशर्स को उनके न्यूज का इस्तेमाल करने के लिए मुआवजा किस तरह से देंगे। अगर Google दो महीने में ऐसा नहीं करता है तो फिर कंपनी को हर दिन 900,000 यूरो करीब 1 मिलियन डॉलर का अतिरिक्त जुर्माना देना होगा।

वहीं, दूसरी ओर गूगल ने इस फैसले को निराशाजनक बताया है लेकिन कंपनी का कहना है कि वो इस फैसले का पालन करेगी। गूगल के प्रवक्ता ने कहा कि जुर्माना हमारे प्रयासों और हमारे प्लेटफॉर्म पर न्यूज कैसे काम करता है, इसे नजरअंदाज करता है। बता दें कि इस मामले में इस बात पर जोर दिया गया है कि Google द्वारा एंटीट्रस्ट अथॉरिटी के जारी अस्थायी आदेशों का उल्लंघन किया गया है।

दोस्तों देश और दुनिया की खबरों को तेजी से जानने के लिए बने रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलो करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Shreya

Shreya

Next Story