×

Qatar: मामूली ताकत नहीं है कतर के पास, यह देश है सबसे बड़ा सहयोगी

Qatar: कभी खाड़ी के सबसे गरीब खाड़ी देशों में से एक कतर आज इस क्षेत्र के सबसे अमीर देशों में से एक है। कतर (Qatar ) की ये अमीरी उसके विशाल गैस और तेल भंडार से बनी है।

Neel Mani Lal
Written By Neel Mani Lal
Updated on: 6 Jun 2022 3:19 PM GMT
Qatar has a lot of power, America is the biggest friend
X

खाड़ी देश कतर: Photo - Social Media

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

Lucknow: कभी खाड़ी के सबसे गरीब खाड़ी देशों (gulf countries) में से एक कतर आज इस क्षेत्र के सबसे अमीर देशों में से एक है। कतर (Qatar ) की ये अमीरी उसके विशाल गैस और तेल भंडार से बनी है। कतर का आज अच्छा खासा प्रभाव है और वह इस क्षेत्र में अमेरिका (America) का बहुत निकट सहयोगी है।

तेल और गैस

कतर की ताक़त उसका गैस व तेल भंडार है जो बहुत लंबे समय तक चलने वाला है। निकट भविष्य में कतर की तेल और प्राकृतिक लिक्विफाइड गैस (एलएनजी) पर निर्भरता बनी रहने की पूरी संभावना है। कतर के पास प्राकृतिक गैस का भंडार 25 ट्रिलियन क्यूबिक मीटर से अधिक है जो दुनिया के कुल गैस भंडार का 13 फीसदी है। ये दुनिया में तीसरा सबसे बड़ा गैस भंडार है। क़तर के पास तेल भंडार 25 बिलियन बैरल से अधिक है, जिससे उत्पादन मौजूदा स्तर पर लगभग 56 वर्षों तक जारी रह सकता है। तेल और प्राकृतिक गैस के प्रभुत्व के बावजूद, कतर ने विनिर्माण, निर्माण और वित्तीय सेवाओं जैसे गैर-तेल क्षेत्रों को मजबूत करने में महत्वपूर्ण लाभ कमाया है, जिससे गैर-तेल सकल घरेलू उत्पाद हाल के वर्षों में लगातार बढ़कर कुल आधे से अधिक हो गया है।

खाड़ी देश कतर: Photo - Social Media

कतर अपनी दौलत उपयोग अपनी क्षेत्रीय और वैश्विक महत्वाकांक्षाओं को नियंत्रित करने के लिए कर रहा है। इस क्रम में 2022 के फुटबॉल विश्व कप की मेजबानी के लिए एक विवादास्पद बोली जीतना भी शामिल है। वैसे, कतर की अन्य अरब नेताओं के साथ बहुत बनती नहीं है। गाजा में फिलिस्तीनी हमास गुट तथा मिस्र और सीरिया में मुस्लिम ब्रदरहुड जैसे इस्लामी गुटों को कतर का समर्थन और फंडिंग सऊदी अरब, यूएई, सीरिया आदि को सख्त अखरता है।

- कतर के पास प्राकृतिक गैस का विशाल भंडार (Huge reserves of natural gas in Qatar) है। यूक्रेन युद्ध के चलते कतर गैस की डिमांड जबर्दस्त बढ़ी है और अनुमान है कि इस साल अब तक कतर का ऊर्जा निर्यात 100 अरब डॉलर तक पहुंच चुका है।

- कतर के पास दुनिया का नौवां सबसे बड़ा वेल्थ फण्ड है जिसकी वैल्यू 950 अरब डॉलर है। गैस और तेल की बिक्री से मिला सरप्लस पैसा इसी फंड में जाता है।

- दुनिया में प्रति व्यक्ति दूसरी सबसे बड़ी जीडीपी कतर के पास है।

- ये देश कतर एयरवेज संचालित करता है, जो दुनिया की सबसे बड़ी एयरलाइनों में से एक है।

- इसके पास दुनिया की सबसे प्रभावशाली मीडिया आउटलेट्स में से एक, "अल जज़ीरा" है।

- कतर का अमेरिका के उच्च शिक्षा संस्थानों में दखल है। ये अमेरिका के कुछ सबसे प्रसिद्ध विश्वविद्यालयों को 1.5 अरब डॉलर सालाना से अधिक का दान देता है। ये संस्थान हैं - मिशिगन विश्वविद्यालय, नार्थ विश्वविद्यालय कैरोलिना, नॉर्थवेस्टर्न, टेक्सास ए एंड एम, और कॉर्नेल।

- कतर ने अफगानिस्तान में तालिबान और अमेरिका के बीच मध्यस्थता की, अमेरिकी नागरिकों को सही सलामत अफगानिस्तान से निकलने में मदद की।

- कतर ने 2005 के बाद से जर्मनी में 140 मस्जिदें बनवाई हैं। कतर की फंडिंग से फ्रांस में कई "मेगा-मस्जिदों" का निर्माण हुआ है। डेनमार्क की सबसे बड़ी मस्जिद के निर्माण के लिए कतर ने फंडिंग की थी। 2018 में स्लोवेनिया में पहली मस्जिद का निर्माण कतर की मदद से हुआ है।

खाड़ी देश कतर: Photo - Social Media

ऐतिहासिक परिप्रेक्ष्य

द्वितीय विश्व युद्ध से पहले, कतर दुनिया के सबसे गरीब और सबसे छोटे देशों में से एक था - इसकी कमाई का मुख्य स्रोत मोती और मछली पकड़ने से आता था।

लेकिन जैसे-जैसे 1940 के दशक में तेल भंडार की खोज और विकास हुआ, देश और इसकी प्रति व्यक्ति आय अधिक से अधिक होती चली गई।

आज, कतर के पास तेल और प्राकृतिक गैस का दुनिया का सबसे बड़ा भंडार है और यह दुनिया के सबसे अमीर देशों में से एक है।

कतर एक पूर्ण राजशाही है जिसका नेतृत्व अमीर करता है, जो राज्य का प्रमुख और सशस्त्र बलों का कमांडर-इन-चीफ होता है। वर्तमान अमीर शेख तमीम बिन हमद अल-थानी हैं, जिन्होंने जून 2013 में अपने पिता से सत्ता ले ली थी। 19वीं सदी के मध्य से राष्ट्र पर अल-थानी परिवार का शासन रहा है।

Shashi kant gautam

Shashi kant gautam

Next Story