पाकिस्तान के मानवाधिकार कार्यकर्ता खुर्रम जकी की गोली मारकर हत्या

Published by Published: May 8, 2016 | 5:25 pm
Modified: May 8, 2016 | 5:26 pm

कराची: पाकिस्तान की जाने-माने मानवाधिकार कार्यकर्ता और सोशल मीडिया पर अभियान चलाने वाले खुर्रम ज़की की देश की वित्तीय राजधानी कराची में अज्ञात हमलावरों ने हत्या कर दी। खुर्रम ज़की धार्मिक कट्टरपंथ के प्रति अपने कठोर रूख के लिए जाने जाते थे।

क्या है मामला ?
-बीती रात ज़की न्यू कराची के सेक्टर 11 में एक रेस्तरां में डिनर कर रहे थे।
-उसी समय मोटरसाइकिल पर चार हमलावर आए और उन्होंने ज़की को गोली मार दी।
-हमले में जकी के साथ मौजूद जर्नलिस्ट राव खालिद और एक अन्य व्यक्ति असलम गंभीर रूप से घायल हो गए।
-एसएसपी मुकद्दस हैदर ने बताया कि हमलावर ने जकी और खालिद को गोलियां मारीं और असलम इस गोलीबारी की चपेट में आ गया।

पहले भी हो चुकी है कई सामाजिक कार्यकर्ताओं की हत्या
-ज़की की हत्या उस दिन हुई जब कराची पुलिस ने मई 2013 में मारी गई सामाजिक कार्यकर्ता परवीन रहमान की हत्या के एक मुख्य संदिग्ध को गिरफ्तार किए जाने का ऐलान किया था।
-ओरांगी शहर में आसपास के बदहाल पड़ोस के विकास के लिए काम करने वाली परवीन की इसी इलाके में घर लौटते समय हत्या कर दी गई थी।

-पिछले साल सितंबर में एक अन्य सामाजिक कार्यकर्ता और मानवाधिकार के लिए अभियान चलाने वाली सबीन महमूद की कराची के डिफेन्स इलाके में हत्या की गई थी।
-सबीन कार्यालय से घर लौट रही थीं।
-उनके हत्यारों का आज तक पकड़ा नहीं जा सका है।

फेसबुक पर बनाया था ‘लेट्स अस बिल्ड पाकिस्तान’ पेज
-पूर्व जर्नलिस्ट ज़की उस समय सुखिर्यों में आए थे जब उन्होंने ‘लेट्स अस बिल्ड पाकिस्तान’ नामक एक फेसबुक पेज शुरू किया था।
-जकी मानवाधिकारों के लिए काम करने और उदारवादी धार्मिक विचारों का प्रसार करने के लिए समर्पित एक वेबसाइट के संपादक बन गए थे।

 

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App