×

India FTA Passes: भारत-ऑस्ट्रेलिया फ्री ट्रेड से बनेंगे लाखों रोजगार, एक्सपोर्ट बढ़ेगा

India FTA Passes: फ्री ट्रेड से दोनों देश एक दूसरे के यहां मुक्त रूप से एक्सपोर्ट कर सकेंगे जिसका लाभ उपभोक्ताओं को मिलेगा।

Neel Mani Lal
Written By Neel Mani Lal
Updated on: 23 Nov 2022 5:59 AM GMT
India Australia free trade
X

भारत - ऑस्ट्रेलिया फ्री ट्रेड (photo: social media ) 

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

India FTA Passes: ऑस्ट्रेलियाई संसद ने महत्वपूर्ण भारत-ऑस्ट्रेलिया मुक्त व्यापार समझौते (एफटीए) को मंजूरी दे दी है, जिससे दोनों देशों के लिए पारस्परिक रूप से सहमत तिथि पर व्यापार समझौते को लागू करने का मार्ग प्रशस्त हो गया है। फ्री ट्रेड से दोनों देश एक दूसरे के यहां मुक्त रूप से एक्सपोर्ट कर सकेंगे जिसका लाभ उपभोक्ताओं को मिलेगा।

केंद्रीय वाणिज्य मंत्री पीयूष गोयल ने कहा है कि व्यापार समझौता विशेष रूप से कपड़ा, रत्न और आभूषण और फार्मास्यूटिकल्स क्षेत्रों को बड़ा बढ़ावा देगा, और इससे 10 लाख नए रोजगार सृजित होने की उम्मीद है। उन्होंने कहा कि, इस समझौते से श्रम-गहन क्षेत्रों को लाभ होगा। भारत में कम से कम 10 लाख अतिरिक्त रोजगार सृजित होने, निवेश के पर्याप्त अवसर पैदा होने तथा स्टार्ट-अप को बढ़ावा देने की उम्मीद है। इसी तरह, यह ऑस्ट्रेलिया में भारतीयों के लिए नौकरी के बेहतर अवसर प्रदान करेगा। भारत के शेफ व योगा प्रशिक्षकों को भी कामकाजी वीजा मिलेगा। भारत से ऑस्ट्रेलिया पढ़ने जाने वाले हर छात्र को वहां उनकी शिक्षा के मुताबिक रोजगार मिल सकेगा। समझौते से वाइन बनाने के लिए अंगूर पैदा करने वाले 6,000 किसानों को लाभ होगा। इससे और भी किसान अंगूर पैदा करने के क्षेत्र में उतर सकेंगे।

ऑस्ट्रेलिया द्वारा 100 फीसदी टैरिफ ड्यूटी खत्म की जाएगी

गोयल ने कहा कि इस डील के तहत ऑस्ट्रेलिया द्वारा 100 फीसदी टैरिफ ड्यूटी खत्म की जाएगी। उन्होंने इस बात पर जोर दिया कि सभी पक्षों से व्यापक और व्यापक परामर्श के बाद समझौते को अंतिम रूप दिया गया था और बताया कि यह सर्वसम्मति से स्वीकार किया गया है। वाणिज्य और उद्योग मंत्रालय ने एक बयान में कहा गया है कि, दोनों पक्षों द्वारा अपनी घरेलू प्रक्रियाओं को पूरा करने के बाद, एक पारस्परिक रूप से सुविधाजनक तिथि पर समझौता शीघ्र ही लागू होगा।

इसके पहले, ऑस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री एंथोनी अल्बनीज ने ट्वीट के जरिए इसकी घोषणा की। कुछ दिन पहले बाली में जी20 शिखर सम्मेलन के दौरान पीएम अल्बनीज ने कहा था कि वह मार्च 2023 में भारत का दौरा करेंगे। इससे पहले इस साल अप्रैल में भारत और ऑस्ट्रेलिया दोनों ने एक अंतरिम आर्थिक सहयोग और व्यापार समझौते (ईसीटीए) पर हस्ताक्षर किए थे और 2022 के अंत तक एक व्यापक आर्थिक सहयोग समझौते (सीईसीए) को समाप्त करने की अपनी प्रतिबद्धता की पुष्टि की थी।

दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय व्यापार 2007 में 13.6 बिलियन डालर से बढ़कर वर्तमान में 27.5 बिलियन डालर हो गया है।

Monika

Monika

Next Story