×

Iran Drone Power: ईरान ने पहली बार दुनिया को दिखाई अपनी ड्रोन ताकत, क्या है इसका मकसद

Iran Drone Power: सुरंगों के अंदर खतरनाक अबाबिल –5ड्रोन्स मौजूद हैं। जिनमें काएम –5 मिसाइलें लगी हैं। काएम –5 मिसाइल ईरान का स्वेदशी मिसाइल है जो हवा से सतह में मार करता है।

Krishna Chaudhary
Updated on: 28 May 2022 4:56 PM GMT
Iran showed its drone power to the world for the first time, what is its purpose
X

ईरान ने दुनिया को दिखाई अपनी ड्रोन ताकत: Photo - Social Media

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

Tehran: शिया मुस्लिम बहुल देश ईरान (Iran) इन दिनों आंतरिक उथल–पुथल से गुजर रहा है। अंतराष्ट्रीय प्रतिबंधों के कारण वहां की अर्थव्यवस्था डवांडोल (economy crisis) है। लोगों के गुस्सा सड़कों पर दिखने लगा है। इसके अलावा बीते कुछ समय से लगातार उसके बड़े सैन्य कमांडरों और परमाणु वैज्ञानिकों को चुन –चुन कर निशाना बनाया जा रहा है। अंतराष्ट्रीय मीडिया (international media) में ईरान की इन मुश्किल हालातों के बारे में चर्चा हो ही रही थी कि इस बीच इस इस्लामिक देश ने दुनिया के सामने अपने विशाल ड्रोन भंडार (drone store) को खोल दिया।

सरकारी टीवी ने ड्रोन के जखीरे को दिखाया

ईरान की सरकारी टीवी ने 28 मई 2022 को एक खबर प्रकाशित की, जिसमें कुछ सुरंगों के अंदर मिसालइलों से लैस ड्रोन्स (drones equipped with missiles) दिखाए गए थे। रिपोर्ट में बताया गया कि ये सुरंग जागरोस पहाड़ के नीचे है। इन सुरंगों में ईरानी सेना के कई खतरनाक ड्रोन्स रखे हैं। ईरान की सेना ने इस भूमिगत बेस के बारे में काफी कम जानकारी साझा की और इसके वास्तिवक लोकेशन को छिपाए रखा। इन सुरंगों के अंदर 100 ड्रोन्स बताए जा रहे हैं।

सरकारी टीवी के मुताबिक, इन सुरंगों के अंदर खतरनाक अबाबिल –5 ड्रोन्स मौजूद हैं। जिनमें काएम –5 मिसाइलें लगी हैं। काएम –5 मिसाइल ईरान का स्वेदशी मिसाइल है जो हवा से सतह में मार करता है। इसे अमेरिका के हेलफायर मिसाइल के टक्कर का माना जाता है। ईरानी सेना के कमांडर मेजर जनरल अब्दुलारहीम मौसावी ने कहा कि ईरान की सेना इलाके की सबसे मजबूत सेना है। मौसावी ने कहा कि हमारे ड्रोन्स किसी भी तरीके के हमले को काउंटर करने या दुश्मन के होश उड़ाने के लिए काफी हैं। हम अपने ड्रोन्स को लगातार अपग्रेड कर रहे हैं।

Photo - Social Media

ईरानी पत्रकार ने बताया कैसे पहुंचा सुरंग में

ईरान के सरकारी टीवी मीडिया के एक पत्रकार ने बताया कि उसे गुरूवार को पश्चिमी ईरान के करमेनशाह (kermenshah) से 45 मिनट तक हेलीकॉप्टर उड़ाने के बाद एक गुप्त भूमिगत ड्रोन बेस स्टेशन पर ले जाया गया। इस पूरे यात्रा के क्रम में उसकी आंखे काली पट्टी से बंधी थी और बेस के अंदर पहुंचने के बाद उसकी आंखे खोली गईं।

फुटेज सामने आने के बाद तनाब बढ़ा

सरकारी टीवी चैनल पर प्रसारित फुटेज में दिख रहा है कि एक कतार में ढेर सारे ड्रोन्स खड़े हैं। जिनमें मिसाइलें तैनात हैं। ये सुरंगे कई मीटर लंबी हैं और जमीन से कई मीटर नीचे भी है। ईरान द्वारा अपने खतरनाक ड्रोनों का दिखाने के बाद खाड़ी क्षेत्र में तनाव बढ़ गया है। इजरायल, सऊदी अरब और यूएई इसे लेकर चौंकन्ना हो गए हैं। ईरान का इन देशों के साथ तनाव जगजाहिर है। इसके अलावा माना जा रहा कि ईरान अपने देश में लोगों के पनपे आक्रोश को डायवर्ट करने के लिए खतरनाक हथियारों को मीडिया के सामने ला रहा है।

Shashi kant gautam

Shashi kant gautam

Next Story