×

Kabul Airport News Today : काबुल एयरपोर्ट पर उतरा कतर एयरक्राफ्ट, तालिबान की मदद को बढ़ाए कदम

Kabul Airport News Today : काबुल एयरपोर्ट पर आज यानी बुधवार को कतर एयरक्राफ्ट उतरा है। इस विमान से टेक्निकल टीम काबुल आई है।

Network
Newstrack NetworkPublished By Vidushi Mishra
Updated on: 1 Sep 2021 5:41 PM GMT
Kabul Airport
X

काबुल एयरपोर्ट (फोटो- सोशल मीडिया)

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

Kabul Airport News Today : तालिबान ने अफगानिस्तान में कब्जा करके पूरी दुनिया को हिला दिया है। ऐसे में काबुल एयरपोर्ट पर आज यानी बुधवार को कतर एयरक्राफ्ट उतरा है। इस विमान से टेक्निकल टीम काबुल आई है। ये टीम एयरपोर्ट पर एक बार फिर से विमान के परिचालन शुरू करने से जुड़े कामों को लेकर चर्चा करेगी।

असल में अभी तक इस पर अमेरिका का कब्जा था। लेकिन अब इसे तालिबान चलाएगा। इस बारे में सूत्रों से सामने आई जानकारी में बताया गया है कि अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन ने युद्ध के लगभग 20 साल बाद अफगानिस्तान से अमेरिकी सेना की वापसी का बचाव करते हुए इसे अमेरिका के लिए 'सबसे अच्छा और सही' फैसला बताया।

अमेरिका के लिए सबसे अच्छा फैसला

अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन ने मंगलवार को व्हाइट हाउस से किए गए संबोधन में कहा कि ऐसा युद्ध लड़ने की कोई वजह नहीं है जो अमेरिकी लोगों के 'अहम राष्ट्रीय हितों' में न हो। 'पूरे दिल से मैं यह मानता हूं कि यह अमेरिका के लिए सही, विवेकपूर्ण और सबसे अच्छा फैसला है।'

फोटो- सोशल मीडिया

ऐसे में राजधानी काबुल में हामिद करजई अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे से अमेरिका के सैनिकों को लेकर आने वाले आखिरी सी-17 मालवाहक विमान ने मंगलवार की सुबह उड़ान भरी। जिसके बाद अफगानिस्तान में अमेरिका का सैन्य अभियान समाप्त हो गया। जबकि अमेरिका ने 9/11 हमलों के बाद तालिबान को अफगानिस्तान से खदेड़ दिया था, लेकिन अब तालिबान का देश पर राज है।

एक युग की समाप्ति

राष्ट्रपति जो बाइडन ने कहा कि अफगानिस्तान में असली विकल्प लड़ाई 'छोड़ने और उसे बढ़ाने के बीच' था। मैं इस युद्ध को हमेशा के लिए बढ़ाना नहीं चाहता था। हमने एक दशक पहले अफगानिस्तान में जो लक्ष्य तय किया था हम उसमें कामयाब हुए। हम एक और दशक रहे। अब इस युद्ध को खत्म करने का वक्त आ गया था। अफगानिस्तान के बारे में यह फैसला महज उस देश को लेकर नहीं है। यह दूसरे देशों के निर्माण के लिए, प्रमुख सैन्य अभियानों के एक युग की समाप्ति है।'

जो बाइडन ने कहा, 'हम एक राष्ट्र के तौर पर युद्ध में बहुत लंबे वक्त तक रहे। अगर आप आज 20 वर्ष के हैं तो आप कभी नहीं जानते कि अमेरिका एक शांति प्रिय देश है।'

Vidushi Mishra

Vidushi Mishra

Next Story