कठघरे में पाकिस्तान, अपने ही लोगों ने उजागर किया भारत के प्रति उनका मंसूबा

आतंकवाद को बढ़ावा देने में पाकिस्तान को हमेशा कठघरे में खड़ा किया जाता है। आतंक के लिए पाकिस्तान की हमेशा निंदा होती है। करतारपुर कॉरिडोर को लेकर इमरान खान और सेना प्रमुख जनरल कमर बाजवा के छिपे एजेंडे की पोल पाकिस्तानियों ने खुद खोल दी है।

Published by suman Published: November 17, 2019 | 9:38 am

जयपुर: आतंकवाद को बढ़ावा देने में पाकिस्तान को हमेशा कठघरे में खड़ा किया जाता है। आतंक के लिए पाकिस्तान की हमेशा निंदा होती है। करतारपुर कॉरिडोर को लेकर इमरान खान और सेना प्रमुख जनरल कमर बाजवा के छिपे एजेंडे की पोल पाकिस्तानियों ने खुद खोल दी है।

रणनीति

‘नया पाकिस्तान’  प्रोग्राम में लोगों ने कहा कि करतारपुर कॉरिडोर को खोलना एक सोची समझी साजिश है। इसका उद्देश्य सिखों में भारत विरोधी भावनाओं को भड़काना है। लोगों ने कहा कि जनरल बाजवा और पाकिस्तानी सेना ने सिखों का गर्मजोशी से स्वागत किया। यह प्रोग्राम पाकिस्तान के यू-ट्यूब चैनल का है।

यह पढ़ें….कर्नाटक विधानसभा उपचुनाव: कांग्रेस ने इन 6 लोगों को उतारा मैदान में

विद्वानों का मानना है कि पाकिस्तान करतारपुर कॉरिडोर का इस्तेमाल खालिस्तान आतंक को बढ़ावा देने के लिए कर सकता है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 9 नवंबर को करतारपुर कॉरिडोर का उद्घाटन किया था और श्रद्धालुओं के पहले जत्थे को रवाना किया था।

खुफिया एजेंसियों ने भारत को आगाह किया कि पाकिस्‍तान में मौजूद खालिस्‍तानी इस गलियारे का दुरुपयोग भारत में अलगाववाद भड़काने में कर सकते हैं। वहीं दूसरी ओर पाकिस्‍तान का प्रमुख आतंकी हाफ‍ज सईद का सहयोगी गोपाल सिंह चावला को करतारपुर साहिब कॉरिडोर की प्रबंधन समिति का सदस्य बनाए जाने के बाद भारत ने आपत्ति जताई थी। जो गलत मंसूबों की ओर आगाह कर रहा है।

यह पढ़ें…. कौशाम्बी: डम्फर ने मार्निग वाक कर रहे तीन प्रतियोगी छात्रों को रौंदा, दो की मौत