×

Kim Jong Uhn Ki Tanashahi : अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहा तानाशाह, अलर्ट हुआ जापान, तैनात किए अपने जहाज

Kim Jong Uhn Ki Tanashahi : मिसाइल दागने के पीछे तानाशाह का सिर्फ एक उद्देश्य संयुक्त राज्य अमेरिका और उसके सहयोगी दक्षिण कोरिया पर परमाणु कूटनीति पर रुकी हुई बातचीत के बीच दबाव बनाना है।

Network
Newstrack NetworkPublished By Vidushi Mishra
Updated on: 19 Oct 2021 11:23 AM GMT
ballistic missile launch
X

बैलिस्टिक मिसाइल लॉन्च (फोटो- सोशल मीडिया) 

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

Kim Jong Uhn Ki Tanashahi : उत्तर कोरिया का तानाशाह किम जोंग उन अपने सनकी मिजाज के लिए दुनिया भर में प्रसिद्ध है। लेकिन ये तानाशाह न्यूक्लियर समझौते को लेकर हुई बातचीत के कई प्रयासों के बाद भी अपनी हरकतों में सुधार नहीं कर रहा है। ऐसे में मंगलवार को नॉर्थ कोरिया ने अपने पूर्वी समुद्र तट से बैलिस्टिक मिसाइल लॉन्च की। इस बारे में साउथ कोरिया की मिलिट्री ने ये जानकारी दी।

इस बारे में जॉइंट चीफ्स ऑफ स्टाफ (JCS) के अनुसार, मिसाइल को दक्षिण हामग्योंग प्रांत के सिनपो के आसपास से पूर्व की तरफ लॉन्चिग किया था। इस पर भारतीय समयानुसार के हिसाब से सुबह करीब 06.45 बजे ये लॉन्च डिटेक्ट किया गया।

उत्तर कोरियाई हथियारों का विकास जरूरी

सामने आई एक रिपोर्ट में बताया गया है कि मिसाइल दागने के पीछे तानाशाह का सिर्फ एक उद्देश्य संयुक्त राज्य अमेरिका और उसके सहयोगी दक्षिण कोरिया पर परमाणु कूटनीति पर रुकी हुई बातचीत के बीच दबाव बनाना है। लेकिन ये भी कहा गया है कि तानाशाह ने यह कदम पड़ोसी देशों में दहशत फैलाने के लिए उठाया है।

इस बारे में जानकारी के अनुसार, कुछ दिन पहले भी किम जोंग उन ने अमेरिका तक तबाही मचाने में सक्षम अंतरमहाद्वीपीय मिसाइल Hwasong-16 और कई अन्य महाविनाशक हथियारों का प्रदर्शन भी किया था। इस दौरान किम जोंग उन ने कहा कि अमेरिका और दक्षिण कोरिया की शत्रुतापूर्ण नीतियों को देखते हुए उत्तर कोरियाई हथियारों का विकास जरूरी है।

फोटो- सोशल मीडिया

अमेरिका नॉर्थ कोरिया के साथ बातचीत

योनहाप की रिपोर्ट के मुताबिक साउथ कोरिया और अमेरिका की इंटेलिजेंस अथॉरिटी ज्यादा जानकारी के लिए इस मामले का एनालिसिस कर रही हैं। यह लॉन्च ऐसे समय में आया है जब साउथ कोरिया, अमेरिका और जापान के टॉप न्यूक्लियर एनवॉय नॉर्थ कोरिया के साथ दोबारा बातचीत शुरू करने के संयुक्त प्रयासों पर चर्चा करने के लिए वॉशिंगटन में हैं। तीनों देश चाहते हैं कि नॉर्थ कोरिया को मानवीय सहायता और अन्य प्रोत्साहनों के जरिए बातचीत के लिए राजी किया जाए।

इस मुद्दे पर अमेरिका के विशेष प्रतिनिधि सुंग किम ने कहा कि वह इस हफ्ते बातचीत के लिए साउथ कोरिया की राजधानी सियोल जाएंगे। सोमवार को वॉशिंगटन में अपने दक्षिण कोरियाई समकक्ष से मुलाकात के बाद किम ने ये भी कहा, 'अमेरिका फिर से नॉर्थ कोरिया के साथ बातचीत शुरू करना चाहता है। हम बिना किसी शर्त के उनसे मिलने के लिए तैयार हैं।'

नॉर्थ कोरिया अपने मिलिट्री बिल्डअप को तेजी से बढ़ा रहा है। बीते दिनों नॉर्थ कोरिया ने कई सारे मिसाइल टेस्ट किए हैं। इनमें एक नई प्रकार की लंबी दूरी की क्रूज मिसाइल और एक हाइपरसोनिक मिसाइल लॉन्च शामिल है।

वहीं उत्तर कोरिया और अमेरिका के बीच परमाणु प्रतिबंधो पर जो वार्ता होने वाली है वो करीब दो सालों के अधिक समय से रुकी हुई है। इस पर उत्तर कोरिया अमेरिका से परमाणु प्रतिबंधो में और ढील देने को जोर दे रहा है।


Vidushi Mishra

Vidushi Mishra

Next Story