किम जोंग-उन ने उत्तर कोरिया के परमाणु कार्यक्रम को सराहा

सियोल: उत्तर कोरिया के सर्वोच्च नेता किम जोंग-उन ने अपने देश के परमाणु कार्यक्रम की सराहना की है। उनके लिए यह अमेरिकी खतरे से निपटने व संप्रभुता की रक्षा करने का सबसे बढ़िया तरीका है।

किम जोंग-उन ने प्योंगयांग में शनिवार को ‘वर्कर्स पार्टी ऑफ कोरिया’ (डब्ल्यूपीके) की केंद्रीय समिति की बैठक में कहा, “उत्तर कोरिया के परमाणु हथियार के देश के भाग्य और अमेरिकी साम्राज्यवादियों के परमाणु खतरे से निपटने के व संप्रभुता का बचाव करने के लिए लोगों के संघर्ष की बहुमूल्य सफलता का नतीजा है।”

किम ‘वर्कर्स पार्टी ऑफ कोरिया’ के अध्यक्ष भी हैं। उन्होंने कहा कि उत्तर कोरिया का परमाणु कार्यक्रम उत्तरी एशिया व कोरियाई प्रायद्वीप में शांति व सुरक्षा बनाए रखने के लिए है।

इस विस्तृत सत्र के दौरान, जो साल में एक बार आयोजित होता है, किम की छोटी बहन किम यो-जोंग पार्टी की पोलित ब्यूरो निर्वाचित हुई, जो उत्तर कोरियाई सरकार में उनके बढ़ते प्रभाव का संकेत है।

देश की सरकारी एजेंसी के मुताबिक, किम के करीबी माने जाने वाले चो रयोंग-हे पार्टी के केंद्रीय समिति का हिस्सा बने, जबकि विदेश मंत्री री योंग-हो केंद्रीय समिति के पोलित ब्यूरो नियुक्त हुए।

–आईएएनएस

 

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App