×

फिर कांपी धरती: भूकंप से सहम गए लोग, देश में मचा हाहाकार

जापान के अम्मी द्वीपसमूह में शनिवार-रविवार की रात 6.3 तीव्रता का भूकंप दर्ज किया गया। मौसम विभाग एजेंसियों के मुताबिक, भूकंप का केंद्र 160 किलोमीटर की गहराई पर स्थित था।

Shivani Awasthi
Updated on: 14 Jun 2020 3:51 AM GMT
फिर कांपी धरती: भूकंप से सहम गए लोग, देश में मचा हाहाकार
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

नई दिल्ली: कोरोना संकट के बीच भूकंप का दौर भी जारी है। आये दिन भूकंप से धरती थरथरा रही है। इसी कड़ी में रविवार को तेज भूकंप के झटकों को महसूस किया गया। भूकंप की तीव्रता 6.3 रिएक्टर स्केल पर दर्ज की गयी। भूकंप जापान में आया है।

जापान में 6.3 तीव्रता का भूकंप

दरअसल, जापान के अम्मी द्वीपसमूह में शनिवार-रविवार की रात 6.3 तीव्रता का भूकंप दर्ज किया गया। मौसम विभाग एजेंसियों के मुताबिक, भूकंप का केंद्र 160 किलोमीटर की गहराई पर स्थित था। ऐसे में सुनामी की सम्भावना बढ़ जाती है। हालंकि एजेंसी ने अब तक सुनामी को लेकर कोई चेतावनी नहीं दी है।

ये भी पढ़ेंः पीएम केयर फंड पर बड़ा एलान, मोदी सरकार ने लिया ये फैसला, विपक्ष को मिली राहत

सम्बंधित अधिकारी कर रहे हालातों की निगरानी

बता दें कि भूकंप से इलाके में दहशत फैल गयी। लेकिन मिली जानकारी के मुताबिक इन झटकों से किसी के घायल होने या किसी प्रकार के नुकसान की कोई सूचना अब तक नहीं मिली है। अधिकारियों को भूकंप को लेकर एलर्ट कर दिया गया है। सम्बंधित अधिकारी हालातों की लगातार निगरानी कर रहे हैं।

ये भी पढ़ेंः यहां बढ़ी अनलॉक में छूट: सरकार ने किया एलान, 15 जून से मिलेगी ये सुविधा

कुछ दिन पहले टोक्यो में आया था भूकंप

बता दें कि हल ही में कुछ दिन पहले जापान की राजधानी टोक्यो में भी भूकंप के झटके महसूस किये गए थे। बताया गया कि भूकंप का केंद्र टोक्यो से 85 किलोमीटर दूर उत्तर-पूर्व इलाके में था। उस समय इसे रिक्टर पैमाने पर 5.6 की तीव्रता में दर्ज किया गया था।

भारत में दो महीने में 12 बार आया भूकंप :

गौरतलब है कि भारत के अलग अलग क्षेत्रों में पिछले दो महीनों में 12 बार भूकंप के झटकों को महसूस किये गए। सबसे ज्यादा इनका असर दिल्ली में रहा। इतनी बार भूकंप आने से विशेषज्ञों की चिंता भी बढ़ गयी। वैसे तो पिछले दिनों आये सभी भूकंप इतने खतरनाक नहीं थे, जिससे किसी तरह का नुकसान हो, लेकिन कई बार भूकंप आने से चिंता बढ़ गयी कि कहीं बड़ा भूकंप तो नहीं आने वाला है, जिसका संकेत इन छोटे छोटे झटकों के जरिये मिल रहा हो।

देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Shivani Awasthi

Shivani Awasthi

Next Story