Top

मालदीव के पूर्व राष्ट्रपति नशीद ने प्रचंड जीत के साथ की वापसी

पूर्व उपराष्ट्रपति इब्राहिम मोहम्मद सोलिह ने सितंबर के राष्ट्रपति चुनाव में अप्रत्याशित जीत हासिल की थी जिसके बाद नशीद देश लौटे। यामीन ने नशीद को चुनाव लड़ने से रोक दिया था।

Shivakant Shukla

Shivakant ShuklaBy Shivakant Shukla

Published on 7 April 2019 11:08 AM GMT

मालदीव के पूर्व राष्ट्रपति नशीद ने प्रचंड जीत के साथ की वापसी
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

माले: मालदीव के पूर्व राष्ट्रपति ने निर्वासन से लौटने के केवल पांच महीने बाद चुनावों में प्रचंड जीत हासिल करते हुए रविवार को सुधार करने और सरकारी भ्रष्टाचार को खत्म करने का संकल्प लिया।

पूर्व राष्ट्रपति मोहम्मद नशीद (51) ने राष्ट्रीय संसद के शीर्ष पद पर जबरदस्त वापसी की है। उनकी मालदीवियन डेमोक्रेटिक पार्टी ने 87 सदस्यीय सदन में दो तिहाई बहुमत हासिल किया।

ये भी पढ़ें— लोगों के घर में जलते रहे घी के दिये, अमेठी की ग़रीब जनता जलती रही धूप में: स्मृति

नशीद ने वादा किया कि वह उनकी पार्टी को मिले जनादेश का इस्तेमाल हिंद महासागर के इस द्वीप में स्थिरता और लोकतंत्र के नए युग की शुरुआत करने में करेंगे।

उन्होंने रविवार को राजधानी माले में समर्थकों से कहा, ‘‘हमारा सबसे महत्वपूर्ण कर्तव्य सरकार में शांति लाना है।’’

नशीद के चिर प्रतिद्वंद्वी और निरंकुश पूर्व राष्ट्रपति अब्दुल्ला यमीन को पांच साल के कार्यकाल के बाद सत्ता से बेदखल होने के लिए मजबूर होना पड़ा जिसके बाद शनिवार का चुनाव जनमत का पहला परीक्षण है। यामीन धन शोधन और गबन के आरोपों का सामना कर रहे हैं।

ये भी पढ़ें— ओडिशा में कांग्रेस का घोषणापत्र: दो लाख रूपये तक का फसल ऋण माफ करने का वादा

पूर्व उपराष्ट्रपति इब्राहिम मोहम्मद सोलिह ने सितंबर के राष्ट्रपति चुनाव में अप्रत्याशित जीत हासिल की थी जिसके बाद नशीद देश लौटे। यामीन ने नशीद को चुनाव लड़ने से रोक दिया था।

(भाषा)

Shivakant Shukla

Shivakant Shukla

Next Story