Top

मालदीव विवाद : राष्ट्रपति के प्रतिनिधि ने चीनी विदेश मंत्री से की मुलाकात

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 9 Feb 2018 11:00 AM GMT

मालदीव विवाद : राष्ट्रपति के प्रतिनिधि ने चीनी विदेश मंत्री से की मुलाकात
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

बीजिंग : मालदीव के राष्ट्रपति के एक प्रतिनिधि ने चीन के विदेश मंत्री से मुलाकात कर मालदीव में जारी गंभीर राजनीतिक संकट के संबंध में सहयोग मांगा। चीनी विदेश मंत्रालय की आधिकारिक वेबसाइट के अनुसार, चीन के विदेश मंत्री वांग यी ने मालदीव के वित्तमंत्री मोहमद सईद से गुरुवार को मुलाकात की और उन्हें बताया, "द्वीपीय देश में कानून के अनुरूप स्थिति सामान्य हो जानी चाहिए।"

समाचार एजेंसी एफे के अनुसार, वांग ने कहा कि मालदीव सरकार और अन्य पक्षों को बातचीत कर मतभेद दूर करने चाहिए। उन्होंने कहा कि चीन दूसरे देशों के आंतरिक मामलों में दखल नहीं देने के सिद्धांत को मानता है।

उन्होंने कहा कि अंतर्राष्ट्रीय समुदाय को मालदीव में विकास और स्थिरता लाने के लिए सकारात्मक भूमिका निभानी होगी।

ये भी देखें : राजनीतिक संकट से घिरे मालदीव पर कब्जा जमाने की फिराक में चीन

सईद ने उन्हें भरोसा दिलाया कि उनकी सरकार मालदीव में चीनी नागरिकों और संगठनों की रक्षा करेगी।

छह फरवरी के सर्वोच्च न्यायालय के आदेश को लागू करने से मना करने और आपातकाल की घोषणा करने के बाद संकटग्रस्त मालदीव के राष्ट्रपति अब्दुल्ला यामीन ने परंपरागत सहयोगी देशों -पाकिस्तान, सऊदी अरब और चीन- में अपने प्रतिनिधियों को भेजकर देश में जारी राजनीतिक संकट के बीच मदद मांगी है।

भारत, अमेरिका और संयुक्त राष्ट्र ने यामीन से आपातकाल खत्म करने और निर्वासित चल रहे पूर्व राष्ट्रपति मोहम्मद नशीद और नौ अन्य शीर्ष राजनीतिक कैदियों की रिहाई का आदेश देने पर गिरफ्तार किए गए सर्वोच्च न्यायालय के दो न्यायाधीशों की रिहाई का आग्रह किया है।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story