फौजी ताकत में भारत दुनिया में नंबर चार पर, पाकिस्तान 13वें नंबर पर

Published by raghvendra Published: March 16, 2018 | 12:25 pm
Modified: March 16, 2018 | 12:29 pm

दुनिया के विभिन्न देशों की फौजी ताकत का विश्लेषण करने वाले शोध संस्थान ने अमेरिका को फिर नंबर वन पर रखा है जबकि फौजी ताकत के हिसाब से भारत दुनिया में चौथी सबसे बड़ी फौज बन चुका है। संस्थान की ओर 2017 में फौजी ताकत के हिसाब से 133 देशों की जो सूची जारी की गयी है उसके हिसाब से पाकिस्तान छलांग लगायी है और वह 13वें नंबर पर पहुंच गया है।

सशस्त्र बलों की बुनियाद पर भारत अमेरिका, रूस और चीन से पीछे है जबकि फ्रांस और ब्रिटेन जैसे ताकतवर देशों से आगे है। फौज के लिए जिन सैन्य हथियारों का विश्लेषण किया गया है उसमें सिर्फ पारंपरिक युद्ध हथियारों और उपकरणों को शामिल किया गया है। संस्थान ने इसमें परमाणु हथियारों को शामिल नहीं किया है।

चीन का रक्षा बजट भारत से काफी ज्यादा

रक्षा बलों के मामले में पाकिस्तान ने पिछले कुछ सालों के मुकाबले 2017 में अपनी ताकत बढ़ाई है और ऐसा करके उसने शीर्ष 15 देशों की सूची में जगह बना ली है। 2017 में अमेरिका का रक्षा बजट 587 अरब डॉलर था जबकि चीन ने 161 अरब डॉलर रक्षा बजट के लिए रखा था।

चीन में सक्रिय सैनिकों की संख्या 22 लाख और रिजर्व सैनिकों की संख्या 14 लाख है। चीन की ताकत लड़ाकू विमान व टैंक हैं। उसके पास तीन हजार लड़ाकू विमान और साढ़े छह हजार टैंक हैं। चीन का बजट भारत से तीन गुना से भी अधिक है। भारत का रक्षा बजट 51 अरब डॉलर है। चीन काफी तेजी से अपनी ताकत बढ़ा रहा है। हालांकि वह अभी अमेरिका और रूस से पीछे है, लेकिन वह बड़ी तेजी से ऊपर आ रहा है और वह दूसरे स्थान पर आ सकता है।

इजराइल नौंवें नंबर पर

ग्लोबल फायर पावर के मुताबिक अमेरिका के पास 13 हजार से अधिक जहाज हैं। इनमें लड़ाकू, परिवहन और हेलिकॉप्टर शामिल हैं। जहां तक भारत का सवाल है तो उसके पास लड़ाकू जहाजों की संख्या दो हजार से अधिक है। सक्रिय सैनिकों की संख्या 13 लाख से अधिक है। इसके अलावा 28 लाख रिजर्व जवान भी हैं जो जरूरत पडऩे पर फौज की मदद कर सकते हैं। भारत में टैंकों की संख्या तकरीबन 4400 है।

पाकिस्तान का रक्षा बजट सात अरब डॉलर है और वह दुनिया का 13वां सबसे शक्तिशाली देश है। पाक के सक्रिय सैनिकों की संख्या छह लाख 37 हजार है। इसके अलावा करीब तीन लाख रिजर्व सैनिक भी हैं। पाक के हेलिकॉप्टर और ट्रांसपोर्ट जहाजों समेत लड़ाकू जहाजों की संख्या तकरीबन एक हजार और टैंकों की संख्या करीब तीन हजार है। पाकिस्तान के पास युद्ध पोत नहीं है लेकिन दूसरे प्रकार के समुद्री जहाजों की तादाद तकरीबन 200 है। सूची के मुताबिक 81 लाख की आबादी वाला देश इजराइल नौवें नंबर पर है। उसके पास 650 लड़ाकू विमान और ढाई हजार से अधिक टैंक हैं।