Top

यूरोप में बढ़ रहा शरणार्थियों के खिलाफ माहौल, जर्मनी में हालात बदतर

Newstrack

NewstrackBy Newstrack

Published on 1 Feb 2016 9:26 AM GMT

यूरोप में बढ़ रहा शरणार्थियों के खिलाफ माहौल, जर्मनी में हालात बदतर
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

बर्लिन: यूरोप के जर्मनी, स्वीडन समेत अन्य देशों में दूसरे विश्व युद्ध के बाद सर्वाधिक गंभीर शरणार्थी संकट पैदा हो गया है। माहौल तेजी से शरणार्थियों को शरण देने के खिलाफ बनता जा रहा है। बर्फीली सर्दियों में भी यूरोप में शरणार्थियों का पहुंचना जारी है।

स्वीडन में हो रहे लगातार हमले

-स्वीडन के स्टाकहोम में शरणार्थियों पर हमले के पोस्टर बंटे।

-इस मामले में दो को गिरफ्तार किया गया।

-अकेले घूमने वाले शरणार्थी बच्चों पर हमलों का खुलासा हुआ।

-इसके बाद दंगारोधी इकाई को तैनात किया गया।

शरणार्थी संकट से उबरने की बन रही योजना

-स्वीडन सरकार ने कहा, 80 हजार शरणार्थियों को जल्द भेजने की बन रही योजना।

ब्रिटेन से भी झड़प की ख़बरें

-ब्रिटेन के कैंट काउंटी में शरणार्थी विरोधी और नस्लीय भेदभाव विरोधी गुट में झड़प।

-झड़प में धुआं छोड़ने वाले बम दागे गए और पथराव हुआ।

जर्मनी में हालात बदतर

-जर्मनी में हालात और भी खराब।

-एक कस्बे में जुलूस में शामिल शरणार्थियों पर हुआ हमला।

-जर्मनी में बीते साल 11 लाख शरणार्थी पहुंचे।

हमले की घटनाएं कई गुना बढ़ी

-शरणार्थियों के शिविर पर पिछले साल एक हजार से अधिक हमले हुए।

-यह 2014 में हुए हमले से पांच गुना ज्यादा है।

Newstrack

Newstrack

Next Story