दुनिया ग्लोबल वार्मिग के खिलाफ लड़ाई हार रही है : इमैनुएल मैक्रों

Published by Rishi Published: December 13, 2017 | 4:44 pm

पेरिस : फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों ने अंतर्राष्ट्रीय समुदाय को आगाह करते हुए कहा है कि दुनिया ग्लोबल वार्मिग के खिलाफ लड़ाई हार रही है। मैक्रों ने दुनिया भर के नेताओं से इससे निपटने के लिए ठोस कार्रवाई का भी आग्रह किया।  मैक्रों ने मंगलवार को पेरिस में वन प्लैनेट समिट की मेजबानी की, जो ग्लोबल वार्मिग को कम करने के लिए स्वीकृत पेरिस समझौते की दूसरी वर्षगांठ के उपलक्ष्य में आयोजित किया गया था।

मैक्रों ने विश्व भर के नेताओं से भरी सभा में कहा, “हम लड़ाई हार रहे हैं, हमें गलती नहीं करनी चाहिए।”

ये भी देखें :अमेरिकी रिसर्च ने किया साबित-गोमांस पर रोक से ग्लोबल वार्मिंग होता है कम

मैक्रों ने कहा, “हमें ठोस कार्रवाई की आवश्यकता है, जो हमारे देश, समाज, अर्थव्यवस्थाओं को बदल सके, ताकि हमारे बच्चे और शायद हम भी अपने भविष्य और अपने ग्रह का चयन कर सकें और साथ ही ग्लोबल वार्मिग को न बढ़ाएं।”

सभी देशों ने पेरिस समझौते पर हस्ताक्षर किए हैं, जिसका लक्ष्य ग्रीनहाउस उत्सर्जन को कम करना और हरित ऊर्जा में निवेश कर वैश्विक तौर पर प्रभावित हो रहे वातावरण को नियंत्रित करना है। हालांकि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप इस समझौते से अलग होने की घोषणा कर चुके हैं।

मैक्रों ने इस मौके पर अमेरिका के उन स्थानीय और राज्यस्तरीय नेताओं का धन्यवाद किया, जिन्होंने संघीय स्तर पर अस्वीकृति के बावजूद समझौते को पूरा करने की प्रतिबद्धता जताई है।

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुटेरेस ने अपने संबोधन में फ्रांसीसी राष्ट्रपति द्वारा दी गई सभी चेतावनियों को दोहराया।

उन्होंने कहा, “हम अभी भी जलवायु परिवर्तन के खिलाफ जीत हासिल नहीं कर पाए हैं और यह इस समय की सबसे विकट चुनौती है। जलवायु परिवर्तन हमसे ज्यादा तेजी से आगे बढ़ रहा है।”