पाक के पूर्व राष्ट्रपति का बड़ा खुलासा, ISI के निर्देश पर जैश ने भारत में किए हमले

परवेज मुशर्रफ ने जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकी हमले को अंजाम देने वाले आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद को लेकर एक सनसनीखेज खुलासा किया है। मुशर्रफ ने स्वीकार किया है कि उनके कार्यकाल के दौरान मसूद अजहर के आतंकवादी संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने पाक की खुफिया एजेंसियों के निर्देशों पर भारत में हमले किए थे।

दुबई: पाकिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति परवेज मुशर्रफ ने जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकी हमले को अंजाम देने वाले आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद को लेकर एक सनसनीखेज खुलासा किया है। मुशर्रफ ने स्वीकार किया है कि उनके कार्यकाल के दौरान मसूद अजहर के आतंकवादी संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने पाक की खुफिया एजेंसियों के निर्देशों पर भारत में हमले किए थे।

बता दें कि पाकिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति 75 वर्षीय परवेज मुशर्रफ दुबई में रह रहे है। उन्होंने कहा कि आतंकवादी संगठन जैश-ए-मोहम्मद पर पाकिस्तान सरकार की कार्रवाई एक अच्छा कदम है। इस संगठन ने दो बार उनकी भी हत्या करने की कोशिश की थी।

यह भी पढ़ें…..ओडिशा हाइड्रो पावर कॉर्पोरेशन लिमिटेड में इन पदों पर निकली वैकेंसी

गौरतलब है कि पुलवामा में हुए आतंकी हमले की जैश ने जिम्मेदारी ली थी जिसके बाद से भारत और पाकिस्तान में तनाव बढ़ गया था। हमले में केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के 40 जवान शहीद हो गए थे।

यह भी पढ़ें…..आलिया ने कंगना को दिया जवाब, वो तो ठीक है… लेकिन कहना क्या चाहती हैं ?

पाकिस्तान के सेना प्रमुख रह चुके मुशर्रफ ने कहा, ‘यह अच्छा कदम है। मैंने हमेशा से कहा है कि जैश-ए-मोहम्मद एक आतंकवादी संगठन है और उसने मेरी हत्या के लिए भी एक आत्मघाती हमले को अंजाम दिया था। उसके खिलाफ कार्रवाई होनी चाहिए।

यह भी पढ़ें…..बीजेपी विधायक आकाश विजयवर्गीय ने राहुल गांधी को कहा- ‘गधों का सरताज’

साथ ही उन्होंने कहा कि जैश के खिलाफ बहुत पहले ही कदम उठाया जाना चाहिए था। जब उनसे पूछा गया कि सत्ता में रहने के दौरान उन्होंने जैश के खिलाफ कोई कार्रवाई क्यों नहीं की तो मुशर्रफ ने कहा, ‘वह समय अलग था। हमारी खुफिया एजेंसी के लोग भारत एवं पाकिस्तान के बीच जैसे को तैसा वाली स्थिति में लगे हुए थे। उस वक्त यह सब जारी था और इन सबके बीच जैश के खिलाफ कोई बड़ी कार्रवाई नहीं की गई। और मैंने भी इस पर जोर नहीं दिया।’