×

पाकिस्तान के पास चीन का उधार चुकाने का पैसा नहीं, और मोहलत मांगी

Pakistan ने पिछले साल चीन से एक अरब डॉलर उधार लिए थे, जिसे चुकाने के लिए उसने चीन से एक और साल की मोहलत मांगी है।

Neel Mani Lal

Written By Neel Mani LalPublished By Shreya

Published on 16 Jun 2021 11:28 AM GMT

पाकिस्तान के पास चीन का उधार चुकाने का पैसा नहीं, और मोहलत मांगी
X

पाकिस्तान प्रधानमंत्री इमरान खान (फाइल फोटो साभार- सोशल मीडिया)

  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

Pakistan News: कर्ज में गले तक डूबे पाकिस्तान (Pakistan) के पास अब चीन (China) का उधार (Loan) चुकाने के लिए पैसा नहीं है। पाकिस्तान की इमरान खान सरकार (Imran Khan Government) ने चीन से एक साल की और मोहलत मांगी है। पाक ने पिछले साल चीन से एक अरब डॉलर (One Billion Dollars) उधार लिए थे अब उसे ये रकम वापस चुकानी है।

पाक के प्रधानमंत्री इमरान खान (PM Imran Khan) ने चीन के प्रधानमंत्री ली केकियांग (PM Li Keqiang) को एक चिट्ठी लिखी है जिसमें उन्होंने कहा है कि पाकिस्तान को एक अरब डॉलर 23 जुलाई 2021 तक चीन को वापस लौटाने हैं। इमरान खान ने चीन को धन्यवाद देते हुए लिखा है कि उसने जो मदद की है उससे पाकिस्तान को बाहरी खर्च के दबाव झेलने में बहुत सहूलियत हुई। इमरान ने आग्रह किया है कि पाकिस्तान को एक फीसदी ब्याज समेत उधार चुकाने के लिए 12 महीने का और समय दे दिया जाए।

इमरान खान (फोटो साभार- सोशल मीडिया)

बेकाबू हुई पाकिस्तान की कर्जदारी

पाकिस्तान की कर्जदारी अब बेकाबू हो चुकी है और उसके जिगरी दोस्त चीन ने 3 अरब डॉलर की पुरानी व अन्य देनदारियों को खत्म करने से इनकार कर दिया है। चीन - पाकिस्तान आर्थिक गलियारे के तहत चीन ने अपना पैसा खर्च कर कई बिजली परियोजनाएं स्थापित की हैं। इनका खर्च भी पाकिस्तान वापस नहीं कर पा रहा है और उसने चीन से पूरी रकम माफ करने की गुहार लगाई है।

बताया जाता है कि चीन अब पुराने करार पर अड़ गया है और कहा है कि वह बिजली खरीद समझौते पर अब कोई नई बातचीत नहीं करेगा। इन बिजली परियोजनाओं में चीनी बैंकों से पैसा उधार लेकर लगाया गया था। चीन ने कहा है कि वह उधार की शर्तों में फेरबदल नहीं कर सकता।

पाकिस्तान की हालत ये है कि उस पर दिसंबर 2020 तक 294 बिलियन डॉलर का कर्ज और देनदारी थी जो मार्च 2021 तक 45.470 ट्रिलियन डॉलर हो गई है। इसके अलावा पाक पर आईएमएफ का 1.164 ट्रिलियन डॉलर का उधार है। ये रकम वह कैसे चुकाएगा, कोई नहीं जानता लेकिन इतना तय है कि चीन मौके का फायदा जरूर उठाएगा।

दोस्तों देश और दुनिया की खबरों को तेजी से जानने के लिए बने रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलो करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Shreya

Shreya

Next Story