ऐसा देश-प्रेम: जवान ने मंगवाई वतन की मिट्टी, जन्म के बाद बच्चे ने रखा पहला कदम

देश प्रेम को सीमाएं या दूरियां कम नहीं कर सकती। इसका उदाहरण है कि सेना के जवान ने अपने बच्चे के लिए स्वदेश की मिट्टी खरीद कर मंगवाया।

Published by Shivani Awasthi Published: January 26, 2020 | 2:01 pm
Modified: January 26, 2020 | 2:04 pm

दिल्ली: देश प्रेम (Patriotism) और राष्ट्र के प्रति सम्मान को किसी भी देश की सीमाएं या दूरियां कम नहीं कर सकती। इसका एक उदाहरण इस बात से मिलता है कि सेना के जवान ने अपने बच्चे का पहला कदम स्वदेश की मिट्टी पर पड़े, इसके लिए उसने को खरीद कर मंगवाया। एक जवान ही अपनी देश की मिट्टी की असली कीमत समझ सकता है, ऐसे में ऊंची कीमत पर भी स्वदेश की मिट्टी मंगवाने के बाद भी वह जवान खुश था कि उसके बेटे ने अपना पहला कदम अपनी ही देश की मिट्टी पर रखा। हालांकि वह स्वदेश से बहुत दूर है।

जवान का ऐसा देश-प्रेम

देशभक्ति और मिट्टी के प्रति प्रेम का एक मामला इटली से सामने आया है, जहां बच्चे के जन्म के बाद अमेरिकी सेना में तैनात जवान ने स्वदेश वापसी न हो पाने के कारण अमेरिका से मिट्टी मंगवा कर अपनी देश भक्ति जाहिर की। दरअसल, अमेरिकी सेना में तैनात जवान टोनी ट्रेकोनी चाहते थे कि उनका बच्चा पहला कदम अपने देश की मिट्टी पर रखे। इसके लिए टोनी ने 200 डॉलर खर्च करके अपने देश की मिट्टी मंगवाई।

ये भी पढ़ें: Republic Day 2020: जमीन पर T-90 भीष्म टैंक, आसमान में मिसाइल की नुमाइश

बच्चे के जन्म से पहले स्वदेश से मंगवाई 200 डॉलर में मिट्टी:

बता दें कि अमेरिकी पैराट्रूप में तैनात टोनी की पत्नी जब प्रेगनेंट हुईं तब उनकी पोस्टिंग इटली के पडुआ प्रांत में थी। टोनी को उम्मीद थी कि बच्चे के जन्म तक वह अपने देश वापस लौट जाएंगे। हालांकि ऐसा हो न सका। उनकी पत्नी ने इटली में ही बच्चे को जन्म दिया।

ये भी पढ़ें: ARMY का फुल फॉर्म: 100 में से 99 लोग नहीं जानते, आइए आपको बताते हैं

बच्चा रख सके देश की मिट्टी पर पहला कदम, इसलिए मंगवाई मिट्टी

जवान टोनी ने बच्चे की डिलीवरी से एक माह पहले ही अपने शहर टेक्सास से मिट्टी का आर्डर दिया। उनकी इच्छा थी कि बच्चा जब दुनिया में आये तो पहला कदम उसी मिट्टी पर रखे, जहां खुद जवान और उसकी पत्नी पले बढ़े हैं। टोनी ने इटली तक मिट्टी मंगवाने के लिए टेक्सास में रह रहे अपने मां-बाप से संपर्क किया। उन्होंने मिट्टी कंटेनर में भरकर इटली भेजी जिसके लिए उन्हें 200 डॉलर यानी करीब 14 हजार रुपए खर्च करने पड़े।

जब उनकी पत्नी की डिलीवरी का वक्त हुआ तो टोनी ने अस्पताल में उस बेड के नीचे मिट्टी रख दी जहां उनकी पत्नी बच्चे को जन्म देने वाली थीं। बच्चे के कदम मिट्टी को छूए, जिसके बाद टोनी ने उस मिट्टी को आज तक संभाल कर रखा हुआ है।

ये भी पढ़ें: देशभक्ति से भरे ये 10 Song: इनको नहीं सुना, तो आपने कुछ नहीं सुना…