तूफान का कहर! मची ऐसी तबाही, चली गई कई लोगों की जान

जापान में तूफान का कहर लगातार जारी है। पहले इस तूफान ने ताबाही मचाई थी अब इस तूफान से होने वाले तापमान में वृद्धि के कारण वहां के लोग लू के शिकार हो रहे हैं।

तोक्यो: जापान में तूफान का कहर लगातार जारी है। पहले इस तूफान ने ताबाही मचाई थी अब इस तूफान से होने वाले तापमान में वृद्धि के कारण वहां के लोग लू के शिकार हो रहे हैं। लू से प्रभावित करीब दो लोगों की मौत हो गई। वहीं तूफान से प्रभावित तोक्यो और आसपास के क्षेत्र में लगभग पांच घरों की बिजली गायब है। वहीं इस मामले में तोक्यो के पूर्वी चिबा प्रान्त की एक अधिकारी ने एएफपी को जानकारी दी है कि एक 93 वर्ष की महिला और 65 वर्ष का एक व्यक्ति मंगलवार को अपने-अपने घरों में बेहोशी की हालत में मिले थे। जिन्हें डॉक्टरों ने बाद में मृत घोषित कर दिया।

तूफान के चलते तापमान में हुई बढ़ोत्तरी-

उन्होंने बताया कि जो इलाके सोमवार को तूफान फैक्शई के चपेट में आए थे। वहां पर मंगलवार को तापमान में बढ़ोत्तरी हुई थी। वहां का तापमान 35 डिग्री सेल्सियस तक पहुंचने की वजह से कम से कम 48 लोगों में लू के लक्षण पाए गए। इस तूफान ने तोक्यो के पास रातोंरात भूस्खलन किया, जिस वजह से दर्जनों लोग घायल हो गए थे और हजारों घरों की बिजली चली गईं।

यह भी पढ़ें: जापान पहुंचा फक्साई तूफान, तेज हवाओं के साथ भारी बारिश शुरू

लगभग 4,56,000 घरों में नहीं थी बिजली-

तोक्यो इलेक्ट्रिक कंपनी (टीईपीसीओ) ने जानकारी दी कि बुधवार सुबह तक करीब 4,56,000 घरों में बिजली नहीं थीं। तोक्यो इलेक्ट्रिक कंपनी ने कहा कि लोग लू से बचने के लिए ठंडी जगहों पर पनाह लें और खूब पानी पिएं। उन्होंने बताया कि प्रभावित इलाकों में सेना अधिकारियों की मदद से टैंकर पहुंचाएं गये हैं।

तूफान फैक्शई के दौरान हवा की रफ्तार 207 किलोमीटर प्रति घंटे थी। तोक्यो की खाड़ी से गुजरने के बाद तूफान ने चिबा को सुबह अपनी चपेट में ले लिया था। तूफान के चलते यातायात पर भी बुरा प्रभाव पड़ा। इसके चलते लगभग 17,000 यात्री हवाई अड्डे पर फंसे रहे थे। एक अधिकारी ने बताया कि इस वजह से लगभग 100 से ज्यादा उड़ानों को रद्द करना पड़ा था।

यह भी पढ़ें: अभी-अभी तूफान का कहर! देखते ही देखते 30 लोगों की चली गई जान