×

G-20 Summit : बाली में PM मोदी और ऋषि सुनक की पहली मुलाकात, जानें क्या हुई बात?

G-20 Summit : पीएम मोदी और ब्रिटिश पीएम ऋषि सुनक इंडोनेशिया के बाली में G-20 समिट में मिले। उनके बीच हुई बातचीत पर दुनिया की नजर है। आखिर दोनों ने क्या बातें की?

aman
Written By aman
Updated on: 15 Nov 2022 7:50 AM GMT
pm narendra modi meet with british pm rishi sunak during g 20 summit in bali indonesia
X

PM मोदी और ऋषि सुनक (Social Media)

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

G-20 Summit : इंडोनेशिया के बाली में आयोजित G-20 समिट (G-20 Summit) में मंगलवार (15 नवंबर) को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) और ब्रिटेन के प्रधानमंत्री ऋषि सुनक (British PM Rishi Sunak) की मुलाकात हुई। दोनों नेताओं की इस पहली मुलाकात पर सबकी नजरें टिकी थीं। भारतीय मूल के ब्रिटिश पीएम ऋषि सुनक ने हाल ही में राजनीतिक अस्थिरता और पूर्व प्रधानमंत्री लिज ट्रस के इस्तीफे के बाद शीर्ष पद संभाला है।

पीएम मोदी और ऋषि सुनक की ये अनौपचारिक मुलाकात रही। बता दें, इंडोनेशिया की राजधानी बाली में जी-20 समिट की बैठक के पहले दिन दोनों नेताओं की मुलाकात और बातें करती तस्वीरें काफी वायरल हो रही हैं। प्रधानमंत्री कार्यालय (PMO) ने दोनों की मुलाकात की जानकारी देते हुए एक तस्वीर भी ट्विटर पर शेयर की है। गौरतलब है कि, ऋषि सुनक भारत की मशहूर शख्सियतों में से एक इंफोसिस के संस्थापक नारायण मूर्ति के दामाद भी हैं।

पीएम मोदी और सुनक के बीच क्या हुई बात?

प्रधानमंत्री मोदी और ऋषि सुनक की मुलाकात के बीच भारतीयों के मन में सवाल उठने लगा कि, आखिर क्या बातचीत हुई होगी? तो आपको बता दें पीएम मोदी ने इससे पहले अमेरिकी प्रेजिडेंट जो बाइडेन (US President Joe Biden) और फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों (French President Emmanuel Macron) से भी उसी गर्मजोशी से मिले। यहां आपको बता दें कि, ये सभी मुलाकातें अनौपचारिक थीं। अभी तक पीएम मोदी ने किसी देश के राष्ट्राध्यक्ष से औपचारिक द्विपक्षीय वार्ता नहीं की है। इसलिए इनकी बातचीत के बारे में बताया नहीं जा सकता।

'यूक्रेन में युद्ध-विराम का रास्ता तलाशना होगा'

इससे पहले, G-20 समिट में भारतीय प्रधानमंत्री ने ऊर्जा आपूर्ति (Power Supply) पर किसी भी तरह के प्रतिबंध को बढ़ावा नहीं देने की जरूरत पर बल दिया। मंगलवार को अपने संबोधन में पीएम मोदी ने स्थिरता सुनिश्चित करने का आह्वान किया। इस दौरान उन्होंने एक बार फिर कूटनीतिक प्रयास के जरिये रूस-यूक्रेन विवाद (PM Modi Russia-Ukraine Dispute) को सुलझाने की बात कही। पीएम मोदी ने आज G- 20 शिखर सम्मेलन के एक सत्र को संबोधित किया। इस दौरान, जलवायु परिवर्तन (Climate change), कोविड-19 (COVID-19) तथा यूक्रेन संकट (Ukraine Crisis) के कारण उत्पन्न हुए वैश्विक चुनौतियों ने दुनिया में मची तबाही सहित वैश्विक आपूर्ति श्रृंखला आदि पर बातें हुई।

ये भी बोले मोदी

पीएम मोदी ने रूस-यूक्रेन युद्ध के मद्देनजर रूसी तेल और गैस की खरीद के खिलाफ यूरोपीय देशों के आह्वान के बीच ऊर्जा आपूर्ति पर कोई प्रतिबंध नहीं लगाने का आह्वान किया। उन्होंने खाद्य तथा ऊर्जा सुरक्षा पर बुलाए सत्र में कहा, 'भारत की ऊर्जा-सुरक्षा वैश्विक विकास के लिए अहम है। क्योंकि, ये दुनिया की सबसे तेज बढ़ती अर्थव्यवस्था है। पीएम मोदी बोल, हमें ऊर्जा की आपूर्ति पर किसी प्रतिबंध को बढ़ावा नहीं देना चाहिए।'

aman

aman

Next Story