RUSSIA: IS से लड़ने में कमजोर पड़े रूसी हथियार, पुतिन ने दी ये सलाह

Published by Newstrack Published: May 12, 2016 | 12:20 pm
Modified: May 12, 2016 | 12:33 pm

आईएस के खिलाफ युद्ध में इस्तेमाल किए जा रहे हथियारों की रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने बुधवार को समीक्षा की। उन्होंने कहा कि ये हथियार सफल साबित हुए हैं, पर इनमें अभी भी सुधार की जरूरत है। पुतिन रूस के रक्षा उद्योग विकास पर मंगलवार से शुक्रवार तक आयोजित हो रही बैठकों की मेजबानी कर रहे हैं। उन्‍होंने कहा कि एसयू-34 बमवर्षक जैसे नए विमान और उच्च क्षमता वाली क्रूज मिसाइलें कारगर साबित हुई हैं।

यह भी पढ़ें… सीरिया: IS के ठिकाने पर ड्रोन हमला, तुर्की सेना ने मारे 34 आतंकी

पुतिन ने कहा…
-सीरियाई अरब गणराज्य में आतंकवादियों के खिलाफ लड़ाई में पहली बार लंबी दूरी के हथियारों का इस्तेमाल किया गया।
-हथियार प्रणाली में सुधार और युद्ध क्षमता को बढ़ावा देने के लिए कदम उठाए जाने की जरूरत है।
-रूस की सेना सितंबर 2015 से सीरिया में आतंकवादी संगठन इस्लामिक स्टेट (आईएस) के खिलाफ मोर्चा खोले हुए है।

मंगलवार से शुक्रवार तक चलने वाली इन बैठकों की पहली बैठक में पुतिन और उनके सलाहकारों ने सीरिया में रूस के आतंकवाद रोधी अभियानों के नतीजों पर चर्चा की।
इन अभियानों के दौरान आ रही समस्याओं का निरीक्षण किया।