×

Russia-Ukraine Crisis: युद्ध के तेजी से बन रहे आसार, भारत ने अपने नागरिकों और छात्रों को दी यूक्रेन छोड़ने की सलाह

Russia-Ukraine Crisis: अमेरिकी समाचार एजेंसियों ने भी यह दावा किया है कि रूस ने यूक्रेन की सीमा पर कड़ी घेराबंदी के साथ यूक्रेन पर हमला करने को लेकर पूरी तैयारी कर ली है।

Rajat Verma
Report Rajat VermaPublished By Vidushi Mishra
Updated on: 2022-02-15T15:10:28+05:30
Russia-Ukraine Crisis: युद्ध के तेजी से बन रहे आसार, भारत ने अपने नागरिकों और छात्रों को दी यूक्रेन छोड़ने की सलाह
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

Russia-Ukraine Crisis: रूस और यूक्रेन के मध्य मध्य रहे विवाद और तनाव के बीच भारत सरकार ने यूक्रेन में रह रहे अपने नागरिकों और पढ़ाई कर रहे छात्रों को यूक्रेन से बाहर निकालने की योजना बनानी शुरू कर दी है। इस बीच इसी के मद्देनज़र यूक्रेन में मौजूद भारतीय दूतावास ने रूस-यूक्रेन विवाद के मध्य अपने नागरिकों और छात्रों से जल्द से जल्द यूक्रेन छोड़ने की अपील करते हुए दिशा-निर्देश जारी किए हैं।

रूस-यूक्रेन के बीच चल रही तनातनी के मुद्दे पर अमेरिकी राष्ट्रपति जो बिडेन और रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के बीच टेलीफोन माध्यम से बातचीत घण्टों बातचीत हुई थी लेकिन रिपोर्ट्स की मानें तो इस बातचीत का कोई भी सकारात्मक नतीजा निकलकर सामने नहीं आया है।

रूस द्वारा यूक्रेन पर हमला

इसी के साथ अमेरिकी समाचार एजेंसियों ने भी यह दावा किया है कि रूस ने यूक्रेन की सीमा पर कड़ी घेराबंदी के साथ यूक्रेन पर हमला करने को लेकर पूरी तैयारी कर ली है और आशंका के तौर पर सप्ताह भर के भीतर ही रूस द्वारा यूक्रेन पर हमला किया सकता है।

इसी कारणवश भारत और अन्य देश यूक्रेन में मौजूद अपने नागरिकों को जल्द से जल्द यूक्रेन छोड़ने की अपील करते नज़र आ रहे हैं। यूक्रेन-रूस संकट इस हद तक गहरा गया है कि आने वाले समय में कभी भी युद्ध जैसी स्थितियां उतपन्न हो सकती है। अमेरिका द्वारा बातचीत के बावजूद रूस मामले को शांतिपूर्वक निपटाने को लेकर राजी नहीं है और इसी के चलते यूक्रेन पर रूसी संकट गहराता हुआ नजर आ रहा है।

भारत-यूक्रेन व्यापार पर पड़ सकता है व्यापक असर

गहराते नज़र आ रहे रूस-यूक्रेन विवाद के मद्देनज़र भारत और यूक्रेन के बीच व्यापारिक रिश्तों पर बेहद ही व्यापक असर पड़ सकता है। भारत और यूक्रेन के मध्य व्यापारिक समझौते के तहत साझेदारी है, जिसमें भारत द्वारा यूक्रेन से न्यूक्लियर रिएक्टर और खाने का तेल अपने देश लाया जाता है तो वहीं दूसरी तरफ भारत द्वारा यूक्रेन को दवाइयां और इलेक्ट्रिकल मशीनें बेंची जाती है। अब यदि रूस और यूक्रेन के बीच गहरा रहा सकता जंग और युद्ध जैसे हालात उत्पन्न करता है तो यकीनन भारत-यूक्रेन के व्यापारिक रिश्तों पर इसका बेहद ही बुरा प्रभाव पड़ सकता है।

अमेरिका ने भी अपने नागरिकों को चेताया

बीते समय में अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने रूस और यूक्रेन के बीच बाद रहे संघर्षों और हालात और अधिक बिगड़ने की आशंकाओं के मद्देनज़र अपने अमेरिकी नागरिकों को जल्द से जल्द यूक्रेन छोड़ने की अपील की थी। रूस-यूक्रेन संकट गहराने के काफी पहले ही अमेरिका ने इस मामले के मद्देनज़र हालात बिगड़ने और रूस द्वारा यूक्रेन पर हमला करने को लेकर अपनी आशंका जाहिर की गई थी।

इस मामले को लेकर पूरी दुनिया की निगाहें इसी ओर टिकी हुई हैं और साथ ही यदि युद्ध जैसे हालात उत्पन्न होते हैं तो यकीनन अमेरिका, भारत समेत दुनिया के कई देशों पर इसका नकारात्मक असर पड़ सकता है।

ukraine russia news, ukraine russia news in hindi, russia-ukraine conflict summary, Ukraine, Ukraine war, Russia-Ukraine crisis| russia, Ukraine, america, india, indian embassy, students, indian citizens, american citizens, american president, joe biden, russian president, vladimir putin, russia Ukraine dispute, Ukraine india business, russia Ukraine war, american media, latest world news

Vidushi Mishra

Vidushi Mishra

Next Story