×

उम्मीद से बड़ा निर्णय ! सऊदी अरब लड़कियों के स्कूलों में शारीरिक शिक्षा करेगा शुरू

Rishi

RishiBy Rishi

Published on 12 July 2017 10:21 AM GMT

उम्मीद से बड़ा निर्णय !  सऊदी अरब लड़कियों के स्कूलों में शारीरिक शिक्षा करेगा शुरू
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

रियाद : सऊदी अरब के शिक्षा मंत्री ने देश में पहली बार लड़कियों के स्कूलों में शारीरिक शिक्षा कार्यक्रम शुरू करने का फैसला किया है। यह कार्यक्रम अगले साल से शुरू होगा।

सऊदी प्रेस में प्रकाशित अहमद अल-ईसा के बयान के अनुसार, यह कार्यक्रम शरिया (इस्लामी कानून) के मुताबिक तैयार किया गया है और इसे प्रत्येक स्कूल के संसाधनों के हिसाब से धीरे-धीरे लागू किया जाएगा, जब तक कि स्कूल इस कार्यक्रम को समायोजित करने के लिए तैयार नहीं हो जाते। इस मंत्रिस्तरीय निर्णय में कार्यक्रम की निगरानी के लिए एक समिति का गठन करने और महिला विशेषज्ञों को तैयार करने के लिए विश्वविद्यालय के साथ काम करने के लिए भी कहा गया है। सऊदी अरब में 2013 तक इस प्रकार के शिक्षा कार्यक्रमों पर प्रतिबंध था। शिक्षा मंत्रालय ने घोषणा की कि वह इस कार्यक्रम को विकसित कर रहा है और 9,000 शारीरिक शिक्षा शिक्षकों को प्रशिक्षण दे रहे हैं। यहां की महिलाओं में मोटापे की दर 62 प्रतिशत पहुंचने के बाद हाल के महीनों में स्थानीय गैर-सरकारी संगठन सरकार पर शीघ्र इस तरह के कार्यक्रम को शुरू करने का दबाव डाल रहे हैं।

Rishi

Rishi

आशीष शर्मा ऋषि वेब और न्यूज चैनल के मंझे हुए पत्रकार हैं। आशीष को 13 साल का अनुभव है। ऋषि ने टोटल टीवी से अपनी पत्रकारीय पारी की शुरुआत की। इसके बाद वे साधना टीवी, टीवी 100 जैसे टीवी संस्थानों में रहे। इसके बाद वे न्यूज़ पोर्टल पर्दाफाश, द न्यूज़ में स्टेट हेड के पद पर कार्यरत थे। निर्मल बाबा, राधे मां और गोपाल कांडा पर की गई इनकी स्टोरीज ने काफी चर्चा बटोरी। यूपी में बसपा सरकार के दौरान हुए पैकफेड, ओटी घोटाला को ब्रेक कर चुके हैं। अफ़्रीकी खूनी हीरों से जुडी बड़ी खबर भी आम आदमी के सामने लाए हैं। यूपी की जेलों में चलने वाले माफिया गिरोहों पर की गयी उनकी ख़बर को काफी सराहा गया। कापी एडिटिंग और रिपोर्टिंग में दक्ष ऋषि अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं।

Next Story