OMG: रोबोट सैम को बनाया नेता, लड़ेगा 2020 का चुनाव

जयपुर: वैज्ञानिकों ने दुनिया का पहला कृत्रिम बुद्धिवाला रोबोट राजनीतिज्ञ बनाया है। यह आवास, शिक्षा, आव्रजन संबंधी नीतियों जैसे स्थानीय मुद्दों पर पूछे गए सवालों के जवाब दे सकता है। इतना ही नहीं, उसे 2020 में न्यूजीलैंड में होने वाले आम चुनाव में उम्मीदवार बनाने की तैयारियां भी जोरों पर हैं। इस आभासी राजनीतिज्ञ का नाम ‘सैम’ (एसएएम) रखा गया है और इसे बनाने वाले न्यूजीलैंड के 49 वर्षीय उद्यमी निक गेरिट्सन हैं।

यह भी पढ़ें...40 इस्लामिक देशों का फैसला, जड़ से करेंगे दुनिया से आतंकवाद का खात्मा

उन्होंने कहा ऐसा लगता है कि फिलहाल राजनीति में कई पूर्वाग्रह हैं। प्रतीत होता है कि दुनिया के देश जलवायु परिवर्तन एवं समानता जैसे जटिल मुद्दों का हल नहीं निकाल पा रहे हैं।  कृत्रिम बुद्धि वाला राजनीतिज्ञ फेसबुक मेसेन्जर के जरिए लोगों को प्रतिक्रिया देना लगातार सीख रहा है। गेरिट्सन मानते हैं कि एल्गोरिदम में मानवीय पूर्वाग्रह असर डाल सकते हैं। लेकिन उनके विचार से पूर्वाग्रह प्रौद्योगिकी संबंधी समाधानों में चुनौती नहीं हैं।

एक खबर में कहा गया है कि प्रणाली भले ही पूरी तरह ‘सटीक’ न हो, लेकिन यह कई देशों में बढ़ते राजनीतिक एवं सांस्कृतिक अंतर को भरने में मददगार हो सकती है। रोबोट को नेता बनाने वाले  न्यूजीलैंड के निक गेरिट्सन हैं। न्यूजीलैंड में साल 2020 के आखिर में आम चुनाव होंगे। गेरिट्सन का मानना है कि तब तक सैम एक प्रत्याशी के तौर पर मैदान में उतरने के लिए तैयार हो जाएगा।

यह भी पढ़ें..देश के तीनों स्तंभों को लोगों के कल्याण के लिए साथ काम करना चाहिए : मोदी

इधर, दुनिया की पहली रोबोट नागरिक शोफिया अब अपना घर बसा कर बच्चे पैदा करना चाहती है। रोबोट सोफिया को सउदी अरब ने नागरिकता दी है। सोफिया ने अपने बच्चे का नाम तक तय कर रखा है। दुबई में चल रहे नॉलेज शेयर कार्यक्रम के दौरान एक पोर्टल को दिए इंटरव्यू में सोफिया ने अपने मन की बात की। सिंगापुर की कंपनी हैंसन रोबोटिक्स ने सोफिया को बनाया है। 19 महीने की सोफिया के पिता हैं डेविड हैंसन. सोफिया को सउदी अरब ने नागरिकता दी है।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App