×

TRENDING TAGS :

Election Result 2024

परमाणु हमले की तैयारी: तानाशाह शुरू करने जा रहा परीक्षण, खुफिया जानकारी से खौफ में कई देश

North Korea: उत्तर कोरिया अब परमाणु परीक्षण की तैयारी बना रहा है। यह दावा पड़ोसी मुल्क दक्षिण कोरिया ने किया हैं।

Rajat Verma
Report Rajat VermaPublished By Vidushi Mishra
Published on: 19 May 2022 5:15 AM GMT
nuclear missile test
X

परमाणु मिसाइल परीक्षण (फोटो-सोशल मीडिया)

North Korea: उत्तर कोरिया एक ओर कोरोना के व्यापक संकट से जूझ रहा है, देश की लाखों की आबादी बगैर टीकाकरण के संक्रमण की चपेट में है। ऐसे विषम हालात में भी उत्तर कोरिया अपनी सैन्य ताकत और क्षमता का दुनिया के सामने दिखावा करने से बाज नहीं आ रहा है। ऐसे में हालिया प्राप्त जानकारी के आधार पर उत्तर कोरिया (North Korea) अब परमाणु परीक्षण (nuclear missile test) की तैयारी बना रहा है। यह दावा पड़ोसी मुल्क दक्षिण कोरिया(South Korea) ने किया हैं।

दरअसल, अमेरिकी राष्ट्रपति जो बिडेन (US President Joe Biden) इसी सप्ताह से अपने दक्षिण कोरिया और जापान के दौरे पर जाने वाले हैं और इसी बीच अमेरिकी खुफिया एजेंसियों ने इस बात की पुष्टि की है कि उत्तर कोरिया जो बिडेन की इस यात्रा के दौरान या बाद में परमाणु परीक्षण और लंबी दूरी की मिसाइल परीक्षण को अंजाम दे सकता है। जो बिडेन की दो देशों की यात्राक दौरान सुरक्षा का जिम्मा उठा रहे अमेरिका के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार जेक सुलिवन ने हाल ही में यह जानकारी सार्वजनिक की है।

उत्तर कोरिया की स्थिति पर चर्चा

दक्षिण कोरिया ने भी इसी मामले को लेकर उत्तर कोरिया द्वारा परमाणु मिसाइल परीक्षण (North Korea's nuclear missile test) को लेकर दावा करते हुए चिंता व्यक्त की गई है। दरअसल, ऐसी स्थितियों से सामान्यतः अशांति का माहौल पैदा होता है, लेकिन बावजूद इसके उत्तर कोरिया हमेशा से दिखावा करने में अग्रणी रहा है।

इस स्थितियों और उत्तर कोरिया की हरकतों को मद्देनज़र रखते हुए अमेरिकी राष्ट्रीह सुरक्षा सलाहकार जेक सुलिवन ने बताया कि संयुक्त राज्य अमेरिका द्वारा दक्षिण कोरिया और जापान के साथ निकटतम रूप से रिश्तों को मजबूत किया जा रहा है तथा साथ ही हमने हाल ही में उत्तर कोरिया की स्थिति पर भी चर्चा की है।

आपको बता दें कि अमेरिकी राष्ट्रति जो बाइडेन की 20 मई से 24 मई की यह यात्रा राष्ट्रपति बनने के बाद एशिया की उनकी पहली यात्रा होगी। इस दौरान जो बिडेन दक्षिण कोरियाई राष्ट्रपति यूं सुक-योल के साथ उनके पहले शिखर सम्मेलन शामिल होंगे।

उत्तर कोरिया से निपटना फिलहाल दोनों देशों का मकसद है लेकिन परमाणु रूप से सक्षम उत्तर कोरिया से यदि लड़ाई की नौबत आती है तो सबको पता है कि नुकसान दोनों ओर से बराबर हैं तथा साथ ही उत्तर कोरिया भी अपनी सैन्य ताकत दिखाकर धमकाने से बाज नहीं आ रहा है।

Vidushi Mishra

Vidushi Mishra

Next Story