×

Sri Lanka New PM: रानिल विक्रमसिंघे ने पद संभालते ही पीएम मोदी के प्रति व्यक्त किया आभार

Sri Lanka New PM: आपातकाल जैसे हालात में पदभार संभालने वाले रानिल विक्रमसिंघे श्रीलंका के 26वें प्रधानमंत्री हैं।

Rajat Verma
Published on 13 May 2022 7:30 AM GMT
Sri Lanka New PM
X

रानिल विक्रमसिंघे ने श्रीलंका के नए पीएम का संभाला कार्यभार (photo: social media )

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

Sri Lanka New PM: श्रीलंका (Sri Lanka) देश अबतक के अपने सबसे बड़े आर्थिक संकट (Economic Crisis) से गुज़र रहा है। ऐसे में बीते कई दिनों से देश की आम जनता द्वारा जारी बवाल, प्रदर्शन और हिंसक कार्यवाही के बाद महिंदा राजपक्षे (Mahinda Rajapaksa) ने श्रीलंका के पीएम पद से इस्तीफा दे दिया था, जिसके बाद अब रानिल विक्रमसिंघे ने देश के नए प्रधानमंत्री के तौर पर कार्यभार संभाला है।

आपको बता दें कि आपातकाल जैसे हालात में पदभार संभालने वाले रानिल विक्रमसिंघे श्रीलंका के 26वें प्रधानमंत्री हैं। इस दौरान रानिल विक्रमसिंघे ने भारत द्वारा श्रीलंका को मिलने वाली आर्थिक और अन्य मदद के लिए भारत के पीएम नरेंद्र मोदी (PM Modi) का आभार व्यक्त करने की बात कही हैं

रानिल विक्रमसिंघे ने सपथ ग्रहण के पश्चात श्रीलंका में व्याप्त राजनीतिक और आर्थिक अस्थिरता को ज़ल्द ही पटरी पर लाने की बात कही है। आपको बता दें कि भारत ने बीते 5 महीनों में करीब 5 अरब डॉलर की रकम कर्ज के रूप में दी है, जिसके मद्देनज़र ही रानिल विक्रमसिंघे ने आर्थिक मदद के लिए भारत के पीएम का शुक्रिया अदा करने की बात कही है।

इसी के तहत भारत ने श्रीलंका के साथ राजनीतिक और अन्य रिश्ते जारी रखते हुए काम करने को हरी झंडी दिखाई है।

महिंदा राजपक्षे मजबूरन इस्तीफा देना पड़ा

महिंदा राजपक्षे को देश में लगातार बिगड़ते हालात के मद्देनज़र मजबूरन इस्तीफा देना पड़ा। इसी के साथ आम नागरिकों द्वारा लगातार हिंसक विरोध प्रदर्शन और उनके कार्यकर्ताओं द्वारा प्रदर्शनकारियों पर हमले की घटना ने महिंदा राजपक्षे को राजनीतिक रूप से कमज़ोर कर दिया। इस दौरान प्रदर्शनकारियों ने उग्रता दिखाते हुए महिंदा राजपक्षे के आवास तक को आग लगा दी थी।

हालांकि, अब रानिल विक्रम द्वारा श्रीलंका के नए पीएम की शपथ लेने के बाद ज़ल्द ही देश के हालात स्थिर होने को लेकर कयास लगाए जा रहे हैं। फिलहाल, आर्थिक संकट इतनी ज़ल्द खत्म नहीं होने वाला है लेकिन देश में व्यक्त अशांति के माहौल को शांत करने का ज़ल्द से ज़ल्द प्रयास किया जा सकता है।

Monika

Monika

Next Story