×

तालिबान ने 'अल्लाहू अकबर' कहकर 22 निहत्थे अफगान कमांडरों को मारी गोली

तालिबान ने 22 निहत्थे अफगान कमांडरों को गोली मार दी। सीएनएन की एक रिपोर्ट के मुताबिक, अफगानिस्‍तान के फरयाब प्रांत के दौलताबाद में 16 जून को तालिबान आतंकियों ने इस वारदात को अंजाम दिया।

Network

NetworkNewstrack NetworkSatyabhaPublished By Satyabha

Published on 14 July 2021 9:30 AM GMT

तालिबान ने अल्लाहू अकबर कहकर 22 निहत्थे अफगान कमांडरों को मारी गोली
X

अफगानिस्तानी कमांडरों को गोली मारकर हत्या फोटो- सोशल मीडिया 

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

अमेरिकी सेना (Us Army) की अफगानिस्तान (Afghanistan) से वापसी के बाद से ही तालिबान (Taliban) ने देश के कुछ हिस्से पर कब्जे का दावा किया है। देश के कई हिस्सों में तालिबान की हिंसा जारी है। जिसमें पाकिस्तानी आतंकियों ने भी साथ दिया है। इसी बीच एक खौफनाक वीडियो भी सामने आया है। इस वीडियो में तालिबानी आतंकियों द्वारा 22 अफगानिस्तानी कमांडरों को गोली मारकर हत्या करते देखा जा रहा है। इस वीडियो को सीएनएन (CNN) द्वारा जारी किया गया है।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, इस हत्याकांड को अफगानिस्तान के फरयाब प्रांत (Faryab) में इसी साल जून माह में अंजाम दिया गया था। उस वक्त अफगानिस्तान स्पेशल फोर्स के ये सभी सैनिक शांतिपूर्वक आत्मसमर्पण के लिए आगे बढ़ रहे थे, तभी तालिबानियों ने 'अल्लाहू अकबर' कहते हुए उन पर गोलियां बरसानी शुरू कर दी। जिसमें 22 सैनिकों की मौत हो गई। ये वारदात 16 जून की है। फरयाब प्रांत के दौलताबाद में तालिबानियों ने इसे अंजाम दिया था। बता दें कि यह इलाका अफगानिस्तान और तुर्कमेनिस्तान की सीमा के पास है।

कमांडरों के पास गोला-बारूद खत्म हो गई थीं

प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक, दौलताबाद पर कब्जे के लिए हुई भीषण हिंसा के दौरान अफगान कमांडरों के पास गोला-बारूद और गोलियां खत्म हो गई थीं। वे हर तरफ से तालिबानी लड़ाकों से घिर चुके थे। इसके बाद कमांडरों को आत्मसमर्पण करने के लिए कहा गया और जैसे ही उन लोगों ने अपने हथियार गिराए उन्हें सड़क के बीचोंबीच गोलियों से भुन दिया गया। रेड क्रॉस ने मामले की पुष्टि करते हुए कहा कि 22 कमांडरों के शव बरामद हो चुके हैं।

तालिबान ने वीडियो को बताया फर्जी

वहीं, तालिबान ने सीएनएन से बातचीत में इस वीडियो को फर्जी करार दिया है। तालिबानी इसे अपने खिलाफ सरकार का प्रॉपेगेंडा बता रहे हैं। तालिबान प्रवक्ता ने कहा कि अभी भी उनके कब्जे में 24 कमांडोज हैं, लेकिन इसकी पुष्टि के लिए कोई सबूत नहीं पेश किया। जबकि अफगानिस्तान रक्षा मंत्रालय का कहना है कि तालिबान ने कमांडरों को मार दिया है।

Satyabha

Satyabha

Next Story