Top

ट्विटर ने माना, बिना अनुमति के यूजर्स की लोकेशन हुई उजागर

माइक्रो ब्लॉगिंग साइट ट्विटर ने स्वीकार किया है कि पिछले सप्ताह एक 'बग' के कारण कुछ जगहों के यूजर्स के ट्वीट्स में उनके लोकेशन (स्थिति) को उनकी अनुमति के बिना ही उजागर कर दिया गया था। सोशल मीडिया दिग्गज ने एक ब्लॉग पोस्ट में कहा, "हमने एक गड़बड़ी की पहचान की है, जिसमें बहुत कम फीसदी यूजर्स, जिन्होंने हाल में ही लोकेशन शेयरिंग को चालू किया, उनके इमोजी या जीआईएफ वाले ट्वीट्स में बिना उनकी अनुमति के ही उनके शहर तक का लोकेशन दिखाई दे रहा था।"

priyankajoshi

priyankajoshiBy priyankajoshi

Published on 25 Nov 2017 1:41 PM GMT

ट्विटर ने माना, बिना अनुमति के यूजर्स की लोकेशन हुई उजागर
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

सैन फ्रांसिस्को: माइक्रो ब्लॉगिंग साइट ट्विटर ने स्वीकार किया है कि पिछले सप्ताह एक 'बग' के कारण कुछ जगहों के यूजर्स के ट्वीट्स में उनके लोकेशन (स्थिति) को उनकी अनुमति के बिना ही उजागर कर दिया गया था। सोशल मीडिया दिग्गज ने एक ब्लॉग पोस्ट में कहा, "हमने एक गड़बड़ी की पहचान की है, जिसमें बहुत कम फीसदी यूजर्स, जिन्होंने हाल में ही लोकेशन शेयरिंग को चालू किया, उनके इमोजी या जीआईएफ वाले ट्वीट्स में बिना उनकी अनुमति के ही उनके शहर तक का लोकेशन दिखाई दे रहा था।"

ये भी पढ़ें... सोनी इंडिया ने नॉयस कैसेंलेशन वायरलेस हेडफोन्स उतारे

ट्विटर के यूजर्स ने कथित तौर पर पिछले हफ्ते गोपनीयता मुद्दे को लेकर ट्वीट किया था। यूजर्स ने यह सवाल सीधे ट्विटर और उसके संस्थापकों के साथ जुड़े खातों से किए थे। कुछ यूजर्स ने दावा किया कि उनके ट्वीट्स में जोड़े गए स्थान उनके वास्तविक स्थान नहीं थे, बल्कि जो स्थान दिखाए गए वह वहां पहले गए थे या फिर माइक्रो-ब्लॉगिंग साइट पर उनके द्वारा खोजे गए थे।

ये भी पढ़ें... TWITTER ला रहा नया ‘बुकमार्क्‍स’ फीचर, सेव कर बाद में पढ़ सकेंगे ट्विट्स

इनवर्स डॉट कॉम के अनुसार, कंपनी ने कहा है कि ऐसे ट्वीट्स से लोकेशन की जानकारी हटा दी गई हैं जो बग से प्रभावित होने के कारण दिख रही थी और कंपनी उन यूजर्स को ई मेल भेजकर इसकी सूचना दे रही है। ट्विटर को लेकर यह जानकारी गूगल द्वारा एंड्रॉइड स्मार्टफोन के माध्यम से लोगों के लोकेशन का आंकड़ा बिना उनकी जानकारी के इकट्ठा करने के खुलासे के दो दिन बाद सामने आई है।

आईएएनएस

priyankajoshi

priyankajoshi

इन्होंने पत्रकारीय जीवन की शुरुआत नई दिल्ली में एनडीटीवी से की। इसके अलावा हिंदुस्तान लखनऊ में भी इटर्नशिप किया। वर्तमान में वेब पोर्टल न्यूज़ ट्रैक में दो साल से उप संपादक के पद पर कार्यरत है।

Next Story