वेनेजुएला के राष्ट्रपति निकोलस मादुरो ने अमेरिका से सभी संबंध तोड़ने की घोषणा की

निकोलस मादुरो ने वेनेजुएला में सभी अमेरिकी राजनयिक कर्मचारियों को देश छोड़ने के लिए 72 घंटे दिए है। वेनेजुएला के राष्ट्रपति ने अमेरिकी सरकार पर तख्तापलट की कोशिश का आरोप लगाया है।

नई दिल्ली: वेनेजुएला के राष्ट्रपति निकोलस मादुरो ने अमेरिकी समकक्ष डोनाल्ड ट्रम्प द्वारा विपक्ष के नेता जुआन गुएदो को दक्षिण अमेरिकी देश के अंतरिम राष्ट्रपति के रूप में मान्यता देने के बाद अमेरिका के साथ राजनयिक संबंध तोड़ने की घोषणा की है|

ये भी पढ़ें— चुनाव आयोग की दो टूक, EVM से ही होंगे देश में चुनाव, बैलेट पेपर से नहीं

निकोलस मादुरो ने वेनेजुएला में सभी अमेरिकी राजनयिक कर्मचारियों को देश छोड़ने के लिए 72 घंटे दिए है। वेनेजुएला के राष्ट्रपति ने अमेरिकी सरकार पर तख्तापलट की कोशिश का आरोप लगाया है।

ये भी पढ़ें— चीनी सेना की हरकतों पर निगरानी के लिए भारत ने इस द्वीप में खोला तीसरा नेवी बेस

बता दें कि वेनेजुएला की उपराष्ट्रपति ने अमेरिका के अपने समकक्ष पर ‘‘खुले तौर पर तख्तापलटने का आह्वान’’ करने का आरोप लगाया है। डेल्सी रॉड्रिगेज ने टेलीविजन पर कहा, ‘‘अमेरिकी घर जाओ! हम उन्हें अपने देश के मामलों में दखल देने नहीं देंगे।’’ इससे पहले अमेरिका के उपराष्ट्रपति माइक पेंस ने टि्वटर पर एक वीडियो पोस्ट किया था जिसमें उन्होंने वेनेजुएला के राष्ट्रपति निकोलस मादुरो को ऐसा तानाशाह बताया था जिनके पास सत्ता में रहने का कोई वैध दावा नहीं है।

ये भी पढ़ें— तो क्या PM मोदी को टक्कर देने के लिए वाराणसी से प्रियंका आयेंगी चुनावी मैदान में?