Top

कन्फ्यूजन से भरा रहता है हमेशा मन तो करें ये आसान उपाय

अगर बात-बात पर मन घबराता है। भविष्य को लेकर हमेशा आशंका बनी रहती है। जोखिम के बारे में सोचने से भी डर लगता है। अगर दिमाग में दिनभर कोई ना कोई ख्याल घूमता रहता है। मन एक जगह लगता नहीं है, कोई

suman

sumanBy suman

Published on 11 Jun 2020 2:15 AM GMT

कन्फ्यूजन से भरा रहता है हमेशा मन तो करें ये आसान उपाय
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ: अगर बात-बात पर मन घबराता है। भविष्य को लेकर हमेशा आशंका बनी रहती है। जोखिम के बारे में सोचने से भी डर लगता है। अगर दिमाग में दिनभर कोई ना कोई ख्याल घूमता रहता है। मन एक जगह लगता नहीं है, कोई ना कोई बात भीतर से परेशान करती रहती है तो ये राहु और चंद्रमा का बुरा असर दिखाती है। अगर कुंडली में चंद्रमा अच्छा नहीं हो तो इंसान का मन एकाग्र नहीं रहता है। वो भटकता रहता है और कई बार काफी बुरे ख्याल भी मन में आते रहते हैं। साथ ही वास्तु की स्थिति भी बेचैनी की वजह हो सकती है तो जाने ये उपाय

यह पढ़ें...राशिफल 11 जून: नौकरी और बिजनेस के लिए कैसा रहेगा दिन, जानें होगा कोई चमत्कार

कुंडली के अनुसार बेचैनी हो तो...

चंद्रमा अगर राहु या केतु के साथ हो तो इंसान कई बार अनिद्रा या बुरे सपनों से भी प्रभावित रहता है। इस सब परेशानियों को दूर करने के लिए चंद्रमा की स्थिति को मजबूत करना चाहिए। अगर चंद्रमा अच्छा होगा तो वो विचार भी अच्छे फल देने वाले देगा। ऐसे लोग अक्सर अच्छे बिजनेस प्लानर होते हैं। अगर आप भी अपने लिए कोई बिजनेस या स्टार्टअप प्लान कर रहे हैं तो अपनी कुंडली में चंद्रमा की स्थिति देखना चाहिए। अगर चंद्रमा मजबूत होगा तो आपको काफी लाभ देगा और आपकी प्लानिंग को सफलता तक पहुंचाएगा।

यह पढ़ें..Solar Eclipse 2020: सैकड़ों साल बाद लगेगा ऐसा सूर्य ग्रहण, जानिए सूतक काल

ऐसे करें चंद्रमा को मजबूत

*लोगों को पानी पिलाने की आदत डालें। कोई भी अजनबी आपके घर आए तो कम से कम उसे पानी जरूर पिलाएं।

*अगर दिमाग कहीं एक जगह नहीं लगा पा रहे हैं तो मन ही मन में ऊं सोम सोमाय नमः मंत्र का जाप शुरू करें।

*शिवजी को रोज जल चढ़ाने की आदत डालें। ये क्रम सोमवार से शुरू करें और इसे रोज फॉलो करें।

*सोमवार को सफेद कपड़े पहनें।

*हर पूर्णिमा पर कन्याओं को दूध का दान करें।

*अपने काम करने की टेबल पर किसी बाउल में पानी भरकर रखें।

वास्तुनुसार उपाय...

वास्तु के काम आ सकते हैं। इन उपायों को अपनाने से आत्मबल में वृद्धि होगी और अनिष्ट की आशंका भी दूर होगी।

*घर में रोजाना सुबह-शाम भगवान की पूजा करें और पूरे घर में कर्पूर का धुआं करें। हनुमान जी अपने भक्तों का साथ कभी नहीं छोड़ते हैं। मंगलवार के दिन हनुमान जी की पूजा करें। हनुमान जी के मंदिर में चमेली के तेल का दीपक जलाएं। हनुमान चालीसा का नित्य प्रति पाठ करें।

यह पढ़ें..पति हो या पत्नी चेहरा पढ़ खोल सकते हैं उनका हर राज, जानें कैसे

* घर की छत पर लाल रंग की पताका लगाने से अनिष्ट दूर हो जाते हैं। कभी भी यात्रा पर जाने से पहले प्रकृति के विरुद्ध कुछ न कहें। नकारात्मक शब्दों का प्रयोग तो बिल्कुल न करें। नदी, आग और हवा के बारे कोई बुरी बात न करें।

*घर से निकलते समय हमेशा अच्छी बात कहें। घर से बाहर जाते समय मुख्य द्वार पर विराजमान गणेश जी से वापस आकर मिलने का वादा करें।

*घर के मुख्य द्वार के पास तुलसी का पौधा लगाएं। रोजाना तुलसी के पौधे की पूजा करें।तुलसी के सामने सरसों के तेल का दीपक भी जलाएं।

*दक्षिण दिशा की तरफ पैर कर न सोएं। शयन कक्ष में मुख्य द्वार की ओर पैर कर न सोएं। पक्षियों को लाल मसूर खिलाएं। घर की छत को हमेशा स्वच्छ रखें

suman

suman

Next Story