14 सितंबर: श्राद्ध की पूर्णिमा, कैसा रहेगा आपका दिन, जानिए पंचांग व राशिफल

माह – भाद्रपद,तिथि – पूर्णिमा, पक्ष – शुक्ल, वार – शनिवार नक्षत्र – पूर्वाभाद्रपद , सूर्योदय – 06:05, सूर्यास्त – 18:28 चौघड़िया- शुभ – 07:41 से 09:13, चर – 12:17 से 13:48, लाभ – 13:48 से 15:20, अमृत – 15:20 से 16:52।

जयपुर माह – भाद्रपद,तिथि – पूर्णिमा, पक्ष – शुक्ल, वार – शनिवार नक्षत्र – पूर्वाभाद्रपद , सूर्योदय – 06:05, सूर्यास्त – 18:28 चौघड़िया- शुभ – 07:41 से 09:13, चर – 12:17 से 13:48, लाभ – 13:48 से 15:20, अमृत – 15:20 से 16:52।

 15 दिन घर में होंगे पितृ, दान-तर्पण से करें उन्हें तृप्त, ये है श्राद्ध में प्रतीक

मेष शनिवार भाद्रपद की पूर्णिमा व पितरों के श्राद्ध का दिन है। इस दिन से पितृपक्ष की शुरुआत हो रही है। शनिवार को अपने परिवार के लिए अपनी ख़ुशियों का त्याग करेंगे। बच्चे को अपनी उम्मीदों के मुताबिक़ प्रदर्शन करने के लिए प्रोत्साहित करें। आपका प्रोत्साहन निश्चित तौर पर बच्चे का आत्मविश्वास बढ़ाएगा। लंबे वक़्त के बाद आप अपने जीवनसाथी के साथ नज़दीकी महसूस कर पाएंगे।सोते समय एक तांबे के पात्र में जल रखकर अगली सुबह घर के पास वाले पेड़ की जड़ में उस जल को डालने से सेहत अच्छी रहेगी।

वृष शनिवार भाद्रपद की पूर्णिमा व पितरों के श्राद्ध का दिन है। इस दिन से पितृपक्ष की शुरुआत हो रही है। शनिवार को अपनी शारीरिक चुस्ती-फुर्ती को बनाए रखे, आज का दिन खेलने में व्यतीत कर सकते हैं। दिन बहुत लाभदायक नहीं है- इसलिए अपनी जेब पर नज़र रखें और ज़रूरत से ज़्यादा ख़र्चा न करें। रोमांस- घूमना-फिरना और पार्टी रोमांचक तो होंगे, लेकिन साथ ही थकाऊ भी रहेंगे। कार्यक्षेत्र में आज आप अपने काम में प्रगति देखेंगे।  मन को शान्त रखें। एक लाल मिर्च, 27 मसूर की दाल के दाने तथा 5 लाल फूल लेकर किसी हनुमान मंदिर में चढ़ाएं, इससे पारिवारिक जीवन की खुशियाँ बढ़ेंगी।

मिथुन शनिवार भाद्रपद की पूर्णिमा व पितरों के श्राद्ध का दिन है। इस दिन से पितृपक्ष की शुरुआत हो रही है। शनिवार को दिन फ़ायदेमन्द साबित होगा और आप किसी पुरानी बीमारी में राहत महसूस करेंगे। लम्बे समय से अटका धन आपको मिल जाएंगे। ऑफिस में तनाव को घर में न लाएँ। इससे आपके परिवार की ख़ुशी ख़त्म हो सकती है। घर पर पारिवारिक जीवन का आनंद लें। आपका हँसने-हँसाने का अन्दाज़ आपकी सबसे बड़ी पूंजी साबित होगा। बाजरा, गुड़ मिलाकर लाल गाय को खिलाने से पारिवारिक जीवन में ख़ुशियों की बौछार होगी।

पितरों के प्रति श्रद्धा प्रकट करने का समय होगा शुरू, श्राद्ध पक्ष में रखें इन बातों का ख्याल

कर्क शनिवार भाद्रपद की पूर्णिमा व पितरों के श्राद्ध का दिन है। इस दिन से पितृपक्ष की शुरुआत हो रही है। शनिवार को बिना वजह अपनी आलोचना करते रहना आत्मविश्वास को कम कर सकता है। आर्थिक तौर पर लाभ मिलेगा। आपका मज़ाकिया स्वभाव माहौल को ख़ुशनुमा बना देगा। रोमांस के नज़रिए से आज ज़िन्दगी बहुत जटिल रहेगी। व्यवसाय में नए विचारों का स्वागत करें। ऐसा करना आपके पक्ष में रहेगा। वैवाहिक जीवन के लिए कठिनाई से भरा दिन रहेगा। आज सारी शिकायतें दूर हो जाएंगी।काले घोड़े की नाल से बना छल्ला पहनने से स्वास्थ्य बेहतर होगा।

सिंह शनिवार भाद्रपद की पूर्णिमा व पितरों के श्राद्ध का दिन है। इस दिन से पितृपक्ष की शुरुआत हो रही है। शनिवार को आर्थिक मामलों में अतिरिक्त सावधानी बरतने की ज़रूरत है। बच्चों के साथ ज़्यादा सख़्ती उन्हें नाराज़ कर सकती है। ख़ुद को नियंत्रित रखने और यह याद रखने की ज़रूरत है कि ऐसा करने से आप अपने और उनके बीच दीवार खड़ी कर सकती है आज का दिन कुछ-कुछ ऐसा ही लग सकता है।आर्थिक स्थिति बेहतर करने के लिए जलन, डाह और ईर्ष्या से बचें।

कन्या शनिवार भाद्रपद की पूर्णिमा व पितरों के श्राद्ध का दिन है। इस दिन से पितृपक्ष की शुरुआत हो रही है। शनिवार को मज़बूती और निडरता का गुण आपकी मानसिक क्षमताओं में इज़ाफ़ा करेगा। किसी भी तरह के हालात को क़ाबू में रखने के लिए इस रफ़्तार को बरक़रार रखिए। पारिवारिक सदस्यों के साथ सुकून भरे और शांत दिन का लुत्फ़ लें। अगर लोग परेशानियों के साथ आपके पास आएं तो उन्हें नज़रअंदाज़ करें और उन्हें अपनी मानसिक शांति भंग न करने दें। प्यार के मामले में आज आप ग़लत हैं। कार्यक्षेत्र में आप किसी षड्यन्त्र का शिकार हो सकते हैं। अचानक यात्रा के कारण आप आपाधापी और तनाव का शिकार हो सकते हैं। आपका जीवनसाथी आपसे नाराज़ हो सकता है, क्योंकि आप उनसे कोई बात साझा करना भूल गए थे।चाँदी का कड़ा धारण करना आर्थिक स्थिति को बेहतर करेगा।

तुला शनिवार भाद्रपद की पूर्णिमा व पितरों के श्राद्ध का दिन है। इस दिन से पितृपक्ष की शुरुआत हो रही है। शनिवार को अच्छी चीज़ों को ग्रहण करने के लिए आपका दिमाग़ खुला रहेगा। आपकी आर्थिक स्थिति में सुधार आएगा, लेकिन पैसे का लगातार पानी की तरह बहते जाना आपकी योजनाओं में रुकावट पैदा कर सकता है। पारिवारिक उत्तरदायित्व में वृद्धि होगी, जो आपको मानसिक तनाव दे सकती है। आज आपको अपने प्रिय का एक अलग ही अन्दाज़ देखने को मिल सकता है। दिन भर आप थोड़े सुस्त और अनमने रह सकते हैं, जिससे आपके काम की गुणवत्ता पर भी असर पड़ेगा। जल्दबाज़ी में फ़ैसले न करें, ताकि ज़िन्दगी में आगे आपको पछताना न पड़े। आप अपने जीवनसाथी के साथ कुछ बहुत रोमांचक काम कर सकते हैं।वर्षा का जल कांच की बोतल में भरकर घर या व्यापार स्थल में रखने से जॉब/बिज़नेस में फायदा देगा।

वृश्चिक शनिवार भाद्रपद की पूर्णिमा व पितरों के श्राद्ध का दिन है। इस दिन से पितृपक्ष की शुरुआत हो रही है। शनिवार को आज का दिन मौज-मस्ती और आनन्द से भरा रहेगा- क्योंकि आप ज़िन्दगी को पूरी तरह जिएंगे। प्रोपर्टी से जुड़े लेन-देन पूरे होंगे और लाभ पहुंचाएंगे। आपके बच्चे के पुरुस्कार वितरण समारोह का बुलावा आपके लिए ख़ुशनुमा एहसास रहेगा। वह आपकी उम्मीदों पर खरा उतरेगा और आप उसके ज़रिए अपने सपने साकार होते हुए देखेंगे। अपने साथी की बातों के प्रति आप ज़रूरत से ज़्यादा संवेदनशील रहेंगे। आपको अपने जज़्बात पर क़ाबू रखने की ज़रूरत है और ऐसा कुछ करने से बचें जो मामले को और भी बिगाड़ दे। आज के दिन यात्रा, मनोरंजन और लोगों से मिलना-जुलना होगा। आज आपका जीवनसाथी आपकी सेहत के प्रति असंवेदनशील हो सकता है। नीले जूतों का प्रयोग करने से प्रेम सम्बन्ध प्रगाढ़ होंगे।

धनु शनिवार भाद्रपद की पूर्णिमा व पितरों के श्राद्ध का दिन है। इस दिन से पितृपक्ष की शुरुआत हो रही है। शनिवार को कुछ लोग सोच सकते हैं कि आप नया सीखने के लिए काफ़ी उम्रदराज़ हो चुके हैं- लेकिन यह सच्चाई से बहुत दूर है- आप अपने तेज़ और सक्रिय दिमाग़ की वजह से कुछ भी आसानी से सीख सकते हैं। लम्बे अरसे को मद्देनज़र रखते हुए निवेश करें। प्यार, मेलजोल और आपसी जुड़ाव में इज़ाफा होगा। आज आप आनन्द का अनुभव करेंगे। कार्यक्षेत्र में समझदारी से काम लें। है। दिक़्क़तों का तेज़ी से मुक़ाबला करने की आपकी क्षमता आपको ख़ास पहचान दिलाएगी। आप जीवनसाथी के साथ झगड़े के चलते भावनात्मक कमजोर महसूस करेंगे। गरीब कन्याओं में चॉकलेट बाँटने से प्रेम सम्बन्धों में वृद्धि होगी।

पितृपक्ष में WI FI से हाई -फाई हो गया श्राद्धकर्म, सात समंदर पार भी जुड़ जाएंगे पूर्वजो से आप

मकर शनिवार भाद्रपद की पूर्णिमा व पितरों के श्राद्ध का दिन है। इस दिन से पितृपक्ष की शुरुआत हो रही है। शनिवार को अपने आप पर एक सीमा के बाद दबाव न डालें। अचानक नए स्रोतों से धन मिलेगा, जो आपके दिन को ख़ुशनुमा बना देगा। पारिवारिक मोर्चे पर कुछ परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। लेकिन अन्य पारिवारिक सदस्यों के सहयोग से आप समस्या का समाधान करने में सफल रहेंगे। अपने ग़ुस्से पर क़ाबू रखें और ऐसा कुछ भी करने से बचें जिसके लिए  आपको पछताना पड़े। किसी नयी परियोजना पर काम करने से पहले अच्छी तरह सोच-विचार लें। आप अपने प्रति अपने साथी के प्यार को समझेंगे, क्योंकि जीवन के एक खास पहलू के लिए समय थोडा कठिन हो सकता है।केले की जड़ को अपने पास रखने से पारिवारिक जीवन अच्छा चलता है।

कुम्भ शनिवार भाद्रपद की पूर्णिमा व पितरों के श्राद्ध का दिन है। इस दिन से पितृपक्ष की शुरुआत हो रही है। शनिवार को दोस्तों का रुख़ सहयोगी रहेगा और वे आपको ख़ुश रखेंगे। आज आप आसानी से पैसे इकट्ठा कर सकते हैं- लोगों को दिए पुराने कर्ज़ वापिस मिल सकते हैं- या फिर किसी नयी परियोजना पर लगाने के लिए धन अर्जित कर सकते हैं। अपने फ़ैसले बच्चों पर थोपना उन्हें नाराज़ कर सकता कुछ लोगों के लिए नया रोमांस ताज़गी लाएगा और आपको ख़ुशमिज़ाज रखेगा। ऑफिस में विरोध के स्वर सुनाई देंगे- लेकिन फिर भी आपको दिमाग़ ठण्डा रखना है। आपके जीवनसाथी आज आपके ऊपर ख़ास ध्यान देंगे। फटे पुराने कपड़े, रद्दी सामान, अखबार आदि को घर से बाहर निकालना पारिवारिक जीवन के लिए अच्छा है।

मीन:   पूण्य से शनिवार भाद्रपद की पूर्णिमा व पितरों के श्राद्ध का दिन है। इस दिन से पितृपक्ष की शुरुआत हो रही है।दान दिन की शुरुआत करें। ज़रूरत से ज़्यादा खाने से बचें। आपकी लगन और मेहनत पर लोग ग़ौर करेंगे और आज इसके चलते आपको कुछ वित्तीय लाभ मिल सकता है। किसी दूर के रिश्तेदार के यहाँ से मिली आकस्मिक अच्छी ख़बर आपके पूरे परिवार के लिए ख़ुशी के लम्हे लाएगी। अपने प्रिय की छोटी-मोटी भूल को अनदेखा करें। भले ही छोटी-मोटी बाधाओं का सामना करना पड़े, लेकिन कुल मिलाकर यह दिन कई उपलब्धियाँ दे सकता है। उन सहकर्मियों का ख़ास ध्यान रखें, जो उम्मीद के मुताबिक़ चीज़ न मिलने पर जल्दी ही बुरा मान जाते हैं। अगर आज आप यात्रा कर रहे हैं तो आपको अपने सामान की अतिरिक्त सुरक्षा करने की ज़रूरत है। ॐ कें केतवे नमः। इस मंत्र का शाम-रात को 11 बार उच्चारण करने से नौकरी व बिज़नेस में उन्नति होगी।