×

TMC विधायक ने मतदाताओं को दी खुली धमकी, कहा— भुगतने होंगे गंभीर परिणाम

पश्चिम बंगाल से अगर आराजकता के माहौल की खबरें आ रही हैं तो वह अकारण नहीं हैं। राज्य के कुछ हिस्सों में माहौल ही ऐसा है, जिसके चलते डर का माहौल बना हुआ है।

raghvendra

raghvendraBy raghvendra

Published on 7 March 2021 7:03 AM GMT

TMC विधायक ने मतदाताओं को दी खुली धमकी, कहा— भुगतने होंगे गंभीर परिणाम
X
फोटो— सोशल मीडिया
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

नई दिल्ली। पश्चिम बंगाल से अगर आराजकता के माहौल की खबरें आ रही हैं तो वह अकारण नहीं हैं। राज्य के कुछ हिस्सों में माहौल ही ऐसा है, जिसके चलते डर का माहौल बना हुआ है। आलाम यह है कि चुनाव के दौरान वोट हासिल करने के लिए जहां नेता सारे हथकंडे अपनाने में लगे हुए हैं, वहीं टीएमसी उम्मीदवार तपन दास गुप्ता अपने पक्ष में वोट करने के लिए लोगों को धमकाने में लगे हुए हैं। एक मीडिया रिपोर्ट की मानें तो बंगाल के कृषि मंत्री तपन दास गुप्ता ने विधासभा चुनाव में उनको वोट न करने पर लोगों को गंभीर परिणाम भुगतने की धमकी दी है। रिपोर्ट के मुताबिक हुगली में एक बैठक के दौरान सप्तग्राम विधानसभा सीट से टीएमसी उम्मीदवार तपन दास गुप्ता ने लोगों से कहा कि जिस क्षेत्र से उनको वोट कम मिलेगा वहां की बिजली—पानी को रोक दिया जाएगा।

बिजली पानी काटने की दी धमकी

27 मार्च से पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव शुरू होने वाला है। ऐसे में सभी दल के ​नेता अपने अपने पक्ष में वोटिंग करने को लेकर सारे हथकंडे अपना रहे हैं। लेकिन टीएमसी के कुछ नेता ऐसे हैं कि इस समय भी नैतिकता को भूलकर मतदाताओं को धमकाने में लगे हुए हैं। हुगली में एक चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए तपनदास गुप्ता ने ​कहा कि जिन इलाकों से मुझे वोट नहीं मिलेगा, वहां बिजली पानी नहीं पहुंचेगा। टीएमसी नेता यहीं नहीं रुके उन्होंने यह भी कहा कि ऐसे क्षेत्र के लोग बिजली—पानी के लिए भाजपा से कह सकते हैं।

इसे भी पढ़ें: BJP में शामिल होंगे मिथुन चक्रवर्ती, कभी बताते थे वामपंथी, ऐसा है सियासी सफर

यह पहला मामला नहीं

बता दें कि टीएमसी नेता तपन दास गुप्ता वर्ष 2011 में हुगली में वाम मोर्चे के अपने प्रतिद्वंद्वी को हराकर सप्तग्राम के विधायक बने। इसी तरह वर्ष 2016 के बंगाल चुनावों में भी उन्होंने इस सीट पर फिर से जीत हासिल की थी। इस बार भी दासगुप्ता को पश्चिम बंगाल चुनाव में लड़ने के लिए यही सीट दी गई है। यह पहला मामला नहीं है जब टीएमसी के नेता वोट के लिए मतदाताओं को धमका रहे हैं। इसस पहले भी टीएमसी विधायक हमीदुल रहमान भी मतदाताओं को धमकाते हुए देखे गए थे। यहां के दिनाजपुर में चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए हमीदुल रहमान ने कहा था कि चुनाव के बाद गद्दारों से निपटा जाएगा।

इसे भी पढ़ें: विधानसभा चुनाव: बंगाल में हुंकार भरेंगे PM मोदी, इन राज्यों में गरजेंगे अमित शाह

raghvendra

raghvendra

राघवेंद्र प्रसाद मिश्र जो पत्रकारिता में डिप्लोमा करने के बाद एक छोटे से संस्थान से अपने कॅरियर की शुरुआत की और बाद में रायपुर से प्रकाशित दैनिक हरिभूमि व भाष्कर जैसे अखबारों में काम करने का मौका मिला। राघवेंद्र को रिपोर्टिंग व एडिटिंग का 10 साल का अनुभव है। इस दौरान इनकी कई स्टोरी व लेख छोटे बड़े अखबार व पोर्टलों में छपी, जिसकी काफी चर्चा भी हुई।

Next Story