Top
TRENDING TAGS :Coronavirusvaccination

बारिश और बाढ़ से भीषण तबाही: टूट गया बांध, चारों तरफ सिर्फ पानी ही पानी

बिहार के कई जिलों में बारिश और बाढ़ ने तबाही मचाकर रख दी है। अब इस बीच पहले से ही बाढ़ की मार झेल रहे लोगों पर नई मुसीबत आई गई है। दरअसल बेगूसराय जिले में बलान नदी का रिंग बांध पानी के ज्यादा दबाव की वजह से टूट गया।

Newstrack

NewstrackBy Newstrack

Published on 26 Aug 2020 5:22 AM GMT

बारिश और बाढ़ से भीषण तबाही: टूट गया बांध, चारों तरफ सिर्फ पानी ही पानी
X
बारिश और बाढ़ से भीषण तबाही: टूट गया बांध, चारों तरफ सिर्फ पानी ही पानी
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

बेगूसराय: बिहार के कई जिलों में बारिश और बाढ़ ने तबाही मचाकर रख दी है। अब इस बीच पहले से ही बाढ़ की मार झेल रहे लोगों पर नई मुसीबत आई गई है। दरअसल बेगूसराय जिले में बलान नदी का रिंग बांध पानी के ज्यादा दबाव की वजह से टूट गया। इसके बाद अफरा-तफरी मच गई है।

जिले के भगवानपुर प्रखंड क्षेत्र के जोकिया पंचायत के तेलन योगी मठ के पास बलान नदी पर बना रिंग बांध टूट गया है। बांध टूटने कारण इस पंचायत के सैकड़ों घरों में पानी घुस गया है।

पानी का तेज बहाव गांव की तरफ से तेजी से बढ़ रहा है। इससे पानी का दबाव जमींदारी बांध पर बनने की आशंका बनी हुई है। अगर ऐसा होता है तो उसके भी टूटने का डर है।

यह भी पढ़ें...विधानसभा स्पीकर के साथ हुआ सड़क हादसा, अस्पताल ले जा रही एंबुलेंस भिड़ी

बांध के टूटने के बाद अचानक 5 हजार लोग इसकी चपेट में आ गए हैं। घरों में पानी घुसने की वजह से लोग बांध पर शरण लेने को मजबूर हो गए हैं। इससे पशुओं के लिए भी परेशानी खड़ी हो गई है। बांध टूटने के बाद ग्रामीणों में अफरातफरी मच गई है।

बारिश और बाढ़ से भीषण तबाही: टूट गया बांध, चारों तरफ सिर्फ पानी ही पानी

यह भी पढ़ें...दाऊद की नई प्रेमिका पर खुलासा, बला की खूबसूरत है ये लड़की, डॉन ने बदल दी जिंदगी

तो वहीं कोसी नदी ने रौद्र रूप धारण किया हुआ है। नदियों के जलस्तर में बढ़ना और घटना जारी है। कोसी लगातार खतरे के निशान से ऊपर बह रही है। गंडक और सोन नदी कहीं बढ़ रही है तो कहीं घट रही है। यही हाल बागमती नदी के जलस्तर का भी है। मंगलवार को कटौंझा में थोड़ा बढ़ा है तो दरभंगा में घटा। बागमती भी खतरे के निशान से ऊपर बह रही है।

यह भी पढ़ें...यूपी में बवाल: मुस्लिम समाज का फूटा गुस्सा, पुलिस के खिलाफ किया हल्लाबोल

तो वहीं गंडक नदी का जलस्तर समस्तीपुर में लाल निशान से नीचे आ गया, लेकिन रोसड़ा में खतर के निशान से 1.16 मीटर ऊपर बह रहा है। खिरोई नदी और घघरा भी खतरे के निशान से ऊपर बह रही है।

देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Newstrack

Newstrack

Next Story