Top
TRENDING TAGS :Coronavirusvaccination

BJP की बड़ी बैठक: बिहार चुनाव होगा मुख्य मुद्दा, सीटों पर हो सकता है फैसला

बिहार विधानसभा चुनाव की तारीखों के एलान के बाद एनडीए में सीटों को लेकर माथापच्ची चल रही थी। मिली जानकारी के मुताबिक बैठक में सीटों के बंटवारे को लेकर आज अंतिम निर्णय लिया जा सकता है।

Newstrack

NewstrackBy Newstrack

Published on 30 Sep 2020 1:04 PM GMT

BJP की बड़ी बैठक: बिहार चुनाव होगा मुख्य मुद्दा, सीटों पर हो सकता है फैसला
X
BJP की बड़ी बैठक: बिहार चुनाव होगा मुख्य मुद्दा, सीटों पर हो सकता है फैसला
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली: भारतीय जनता पार्टी ने बिहार में होने वाले विधानसभा चुनाव को लेकर सक्रियता दिखाते हुए एनडीए की एक अहम बैठक दिल्ली में बुलाई है। यह बैठक भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा के आवास पर हो रही है। इस बैठक में गृह मंत्री अमित शाह, देवेंद्र फडणवीस और भूपेंद्र यादव से साथ बिहार के उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी व स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडे भी मौजूद हैं।

सीटों के बंटवारे को लेकर आज अंतिम निर्णय

बता दें कि बिहार विधानसभा चुनाव की तारीखों के एलान के बाद एनडीए में सीटों को लेकर माथापच्ची चल रही थी। मिली जानकारी के मुताबिक बैठक में सीटों के बंटवारे को लेकर आज अंतिम निर्णय लिया जा सकता है। जदयू और लोजपा के शीर्ष नेताओं को भी दिल्ली बुलाया गया था। कहा जा रहा है कि यह भाजपा और जदयू के बीच अंतिम बातचीत है।

jp nadda-bihar election-3

लोजपा का एनडीए से अलग होना जदयू को फायदा मिल सकता है

बताया जा रहा है की सीट बंटवारे का फॉर्मूला तैयार होने के बाद, जदयू-भाजपा और मांझी की पार्टी के बीच तालमेल का आधिकारिक एलान होगा। अगर चिराग पासवान की लोजपा एनडीए से अलग होने का फैसला करती है तो इसका फायदा जदयू को मिल सकता है। लोजपा के अलग होने पर जदयू के खाते में 127 सीटें आएंगी।

ये भी देखें: जोरदार विमान धमाका! हिल गई बड़ी-बड़ी इमारतें, फिर सामने आई ये सच्चाई

लोजपा का एनडीए से अलग होने के कारण

चिराग पासवान के नेतृत्व वाली लोजपा सीटों के बंटवारे पर विचार-विमर्श कर रही है। पार्टी इस उधेड़बुन में है कि भाजपा नीत एनडीए की पेशकश को स्वीकार किया जाए या फिर 143 सीटों पर चुनाव लड़ने की अपनी योजना पर आगे बढ़ा जाए। पार्टी सूत्रों के अनुसार इस पर जल्द ही फैसला लिया जाएगा।

लोजपा को 27 सीटों की पेशकश की गई है

एनडीए में जदयू, भाजपा और लोजपा के बीच सीटों के बंटवारे को लेकर अभी आधिकारिक रूप से कुछ नहीं कहा गया है। सूत्रों का कहना है कि लोजपा को 27 सीटों की पेशकश की गई है। लोजपा इससे नाराज है कि वह जिन सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारना चाहती है, उन सीटों की पेशकश उसे नहीं की गई है।

jp nadda-bihar election-2

ये भी देखें: बाबरी ढांचा ध्वंस में सभी बरीः राम के प्रति श्रद्धा की जीत, संतों ने किया निर्णय का स्वागत

जदयू महागठबंधन की साझेदारी में 2015 का चुनाव

यहां आपको जानकारी दे दें कि साल 2015 में हुए पिछले विधानसभा चुनाव में लोजपा ने 42 सीटों पर चुनाव लड़ा था, जिनमें से दो सीटों पर उसे जीत मिली थी। तब जदयू महागठबंधन की साझेदार थी, जिसने एनडीए को बुरी तरह हरा दिया था। जदयू ने भी कहा है कि लोजपा का गठबंधन भाजपा के साथ है, न कि उसके साथ।

Newstrack

Newstrack

Next Story