Top
TRENDING TAGS :Coronavirusvaccination

घूम रहे गैंगरेप के दरिंदे: पहले हैवानियत, फिर पीड़िता को कीचड़ में दफनाने की कोशिश

लड़कों द्वारा घेरने के बाद भी तीन लड़कियां किसी तरह भाग गईं, एक लड़की को दो लड़कों ने पकड़ लिया। बारी-बारी से उसके साथ गैंगरेप की घटना को अंजाम दिया। बाकी तीनों लड़के उनके सहयोग में वहीं पर मौजूद रहे।

Newstrack

NewstrackBy Newstrack

Published on 2 Oct 2020 6:48 AM GMT

घूम रहे गैंगरेप के दरिंदे: पहले हैवानियत, फिर पीड़िता को कीचड़ में दफनाने की कोशिश
X
घूम रहे गैंगरेप के दरिंदे: पहले हैवानियत, फिर पीड़िता को कीचड़ में दफनाने की कोशिश
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली: उत्तर प्रदेश के जिले हाथरस में गैंगरेप का मामला अभी थमा भी नहीं था कि बिहार के कैमूर जिले में भी गैंगरेप के बाद हैवानियत दिखाने का मामला सामने आया है। घास काटने गई लड़की से दो लड़कों ने गैंगरेप किया। जिसके बाद लड़कों ने पीड़िता को जान से मारने की कोशिश की। आरोपी लड़की के मुंह को कपड़े से बांधकर खेत के कीचड़ में पैर से दबा रहे थे। पीड़िता से थोड़ी दूर मौजूद लड़कियों ने जब यह देखा तो शोर मचाने लगीं।

पांच लड़कों ने लड़कियों को अकेला देखकर घेर लिया

घटनास्थल पर मौजूद दूसरी लड़कियों के शोर से ग्रामीणों ने एक आरोपी को धर दबोचा। फिर जब पुलिस गांव पहुंची तो दूसरे आरोपी को भी खोजकर पकड़ लिया गया, बाकी तीन आरोपी अब भी फरार हैं। पूरा मामला कैमूर जिले के चैनपुर थाना क्षेत्र का है। जहां चार लड़कियां खेत में घास काटने के लिए गई थीं, तभी मदुरनी गांव के पांच लड़कों ने लड़कियों को अकेला देखकर घेर लिया।

लड़कों ने गैंगरेप की घटना को अंजाम दिया

लड़कों द्वारा घेरने के बाद भी तीन लड़कियां किसी तरह भाग गईं, एक लड़की को दो लड़कों ने पकड़ लिया। बारी-बारी से उसके साथ गैंगरेप की घटना को अंजाम दिया। बाकी तीनों लड़के उनके सहयोग में वहीं पर मौजूद रहे। जैसे ही यह बात लड़की के परिजनों और गांव वालों को पता चली तो पूरा गांव खेतों की तरफ दौड़ा।

bihar-kaimur-gangrape-2

ये भी देखें: दलित लड़कियों की इज्जत को खतरा, मायावती का फूटा गुस्सा, की ये बड़ी मांग

गांव वाले उस लड़के को मारने पर उतारू

गांव वाले उस लड़के को मारने पर उतारू थे। किसी तरह समझा-बुझाकर पुलिस ने उसको अपने कब्जे में लिया। फिर पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए दूसरे आरोपी को भी खदेड़ कर धर दबोचा, लेकिन तीन आरोपी भाग निकले। जिसके लिए पुलिस छापेमारी कर रही है। पीड़िता का मेडिकल कराने के लिए सदर अस्पताल लाया गया, महिला थाना में पीड़िता के लिखित आवेदन पर प्राथमिकी दर्ज की गई है।

लड़कियां घास काटने खेतों में गई थीं

परिजन बताते हैं कि हमारे गांव की तीन लड़कियां और एक बहू बगल के खेत में घास काटने गई थीं। तभी मदुरनी गांव के 5 लड़के पहुंचे और एक लड़की को पांच लड़कों ने घेर लिया। जैसे लड़की चिल्लाई तो साथ घास काट रहीं सभी लड़कियां खड़ी हो गईं, फिर तीन लड़के, तीनों लड़कियों को पकड़ने के लिए दौड़े। किसी तरह वे जान बचाकर वहां से भागीं।

ये भी देखें: यूपी बलात्कारियों का अड्डा! रेपकांड से कांपी राजधानी, हफ्तेभर हुआ सामूहिक दुष्कर्म,

गांव वालों ने 5 लड़कों की फांसी की मांग की

फिर दो लड़कों ने लड़की के साथ गलत काम किया। फिर गड्ढे में लड़की का मुंह बांधकर दबा दिया। जब गांव वाले को सूचना मिली तो वे दौड़े। एक लड़के को पकड़ लिया गया। प्रशासन पहुंचा तो लड़के ने बताया कि मेरे साथ और चार लोग थे। प्रशासन ने दूसरे आरोपी को पकड़ लिया बाकी तीन लोग भाग गए। अब हम लोग चाहते हैं कि 5 लड़कों को फांसी की सजा होनी चाहिए। दो लड़कों ने गलत काम किया और 3 लोगों ने इस काम के लिए प्रेरित किया और उनका सहयोग दिया। कैमूर एसपी दिलनवाज अहमद बताते हैं चैनपुर थाना क्षेत्र की लड़की है जो आरोप लगा रही है खेत में घास काटने के लिए गए थे तभी एक-दो लड़कों द्वारा उसके साथ गलत काम किया गया है।

महिला थाने में प्राथमिकी दर्ज कराई गई

एसपी ने बताया कि तीन लड़के उनके साथ थे। पीड़िता के बयान पर महिला थाने में प्राथमिकी दर्ज कराई गई है। मेडिकल बोर्ड गठित कर पीड़िता का मेडिकल जांच कराया गया है। दो लड़के जिनका नाम बता रही थी उनकी गिरफ्तारी कर ली गई है। अन्य अभियुक्त की गिरफ्तारी के लिए छापामारी जारी है। जो दो लड़के पकड़े गए हैं उनकी भी मेडिकल जांच कराई जा रही है।

bihar-kaimur-gangrape-3

ये भी देखें: शेयर बाजार का बेताज बादशाह: ऐसे बना विलेन, काले धंधों पर आई वेब सीरीज

पुलिस पदाधिकारी सुनीता कुमारी कर रही हैं जांच

एफएसएल की टीम से भी पूरे प्रकरण की जांच कराई जाएगी, जो भी तथ्य अनुसंधान में आएंगे जो भी दोषी पाए जाएंगे, उन्हें बख्शा नहीं जाएगा। कड़ी से कड़ी सजा मिलेगी। अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी सुनीता कुमारी पूरे मामले की मॉनिटरिंग कर रही हैं। लड़की का माननीय न्यायालय में 164 के बयान दर्ज कराया जाएगा ।

Newstrack

Newstrack

Next Story