Top
TRENDING TAGS :Coronavirusvaccination

JDU नेता का तेजस्वी यादव पर बड़ा खुलासा, जानकर आपको होगी हैरानी

राजनीति में जब भी लालू यादव या उनके परिवार की बात होती है विवाद भी साथ होते हैं।चाहे खुद लालू हो या उनके बेटे उनके साथ कोई ना कोई विवाद गहराता ही जाता है। इस बार तेजस्वी यादव के साथ विवाद गहरा रहा है। दरअसल दो दिन पहले दरभंगा और मधुबनी के दौरे पर तेजस्वी गए तो इस दौरे को लेकर सवाल उठने लगे हैं।

Suman

SumanBy Suman

Published on 24 July 2020 12:59 PM GMT

JDU नेता का तेजस्वी यादव पर बड़ा खुलासा, जानकर आपको होगी हैरानी
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

टना राजनीति में जब भी लालू यादव या उनके परिवार की बात होती है विवाद भी साथ होते हैं।चाहे खुद लालू हो या उनके बेटे उनके साथ कोई ना कोई विवाद गहराता ही जाता है। इस बार तेजस्वी यादव के साथ विवाद गहरा रहा है। दरअसल दो दिन पहले दरभंगा और मधुबनी के दौरे पर तेजस्वी गए तो इस दौरे को लेकर सवाल उठने लगे हैं।

तेजस्वी ने दरभंगा में अपनी पार्टी के मृतक नेता के परिजनों से मुलाक़ात के बाद बाढ़ पीड़ितों बीच जाकर उनका हालचाल जानने की कोशिश की। और सीएम नीतीश कुमार पर निशाना भी साधा ।जेडीयू सांसद ललन सिंह ने तेजस्वी यादव के इस दौरे को लेकर बड़ा आरोप लगाया है।

यह पढ़ें...आफतों से जूझता देश: एक तरफ कोरोना तो दूसरी तरफ बारिश, बीच में फंसे लोग

जमीन की घेरे बंदी के लिए गए

जदयू सांसद ललन सिंह ने दावा किया है कि वो अपनी जमीन की घेराबंदी करवाने के लिए दरभंगा गए थे ना कि बाढ़ पीड़ितों से मुलाकात करने। ललन सिंह ने आरोप लगाया है कि पिछले लोकसभा चुनाव में वीआईपी पार्टी के उम्मीदवार बद्री पूर्वे से तेजस्वी यादव ने उनकी जमीन ले ली। चुनावी टिकट के बदले जमीन लेने का खेल लालू परिवार सालों से करते आया है और तेजस्वी यादव भी फिलहाल यही गोरखधंधा कर रहे हैं।

टिकट देने का आरोप

लोकसभा चुनाव में मधुबनी से उम्मीदवार रहे बद्री पूर्वे की एक तस्वीर भी वायरल हुई है। जिसमें तेजस्वी यादव को जमीन के दस्तावेज देते हुए वो देखे जा रहे हैं। जदयू नेता ने कहा कि बद्री पूर्वे ने टिकट लेने के लिए एड़ी चोटी एक कर दी थी। बाद में लालू यादव ने बीच का रास्ता निकालते हुए राष्ट्रीय जनता दल के नाम पर दरभंगा के लहरिया सराय में एक जमीन का टुकड़ा लिखवाया और वीआईपी पार्टी से उन्हें मधुबनी से लोकसभा चुनाव लड़वाया। बताया जाता है कि जिस शख्स से जमीन लिखवायी गयी है। उस शख्स का नाम अमित कुमार है। अमित कुमार बद्री पूर्वे के रिश्ते में साला हैं। बद्री पूर्वे ने अमित कुमार से आरजेडी कार्यालय के नाम पर जमीन को दान करवाया।

लालू की राह पर तेजस्वी

जेडीयू सांसद ने तेजस्वी पर आरोप लगाया कि लालू कभी भी गरीबों के मसीहा नहीं, बल्कि वो लूटेरा रहे है। तेजस्वी यादव भी लालू यादव की राह पर चल रहे हैं। तेजस्वी यादव बिहार के लोगों को यह ट्रिक बताएं कि इतनी कम उम्र में अकूत संपत्ति कैसे बनाई जाती है?

यह पढ़ें...राजस्थान की लड़ाई को दिल्ली लेकर जाएंगे गहलोत, राष्ट्रपति से लगाएंगे गुहार

जमीन लेना लालू परिवार की परंपरा

जदयू नेता ने कहा कि लालू परिवार सालों से जमीन के धंधे में लगा हुआ है। नौकरी के नाम पर जमीन लिखवाना, टिकट के बदले जमीन लेना यह इस परिवार की परंपरा है। ललन सिंह ने खुलासा कर कहा है कि लहेरियासराय के रहने वाले अमित कुमार ने दरभंगा की अपनी जमीन आरजेडी के नाम मुफ्त लिख दी। ललन सिंह ने पूछा है कि तेजस्वी यादव बद्री पूर्वे और अमित कुमार से अपना रिश्ता बताएं।

Suman

Suman

Next Story