Top
TRENDING TAGS :Coronavirusvaccination

बिहार में जुबानी जंग से सियासी माहौल गरम, जदयू नेता के इस बयान से मची खलबली

जदयू की प्रदेश कार्यकारिणी की हाल में हुई बैठक में उमेश कुशवाहा को नया प्रदेश अध्यक्ष चुना गया था। जदयू का प्रदेश अध्यक्ष बनने के बाद से कुशवाहा महागठबंधन पर हमलावर रुख अपनाए हुए हैं।

Roshni Khan

Roshni KhanBy Roshni Khan

Published on 15 Jan 2021 4:50 AM GMT

बिहार में जुबानी जंग से सियासी माहौल गरम, जदयू नेता के इस बयान से मची खलबली
X
बिहार में जुबानी जंग से सियासी माहौल गरम, जदयू नेता के इस बयान से मची खलबली (PC: social media)
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

पटना: बिहार में इन दिनों पक्ष और विपक्ष के बीच चल रही जुबानी जंग से सियासी माहौल गरमाया हुआ है। जदयू के नए प्रदेश अध्यक्ष उमेश कुशवाहा ने अपने बयान में बड़ा दावा करके बिहार में फिर खलबली मचा दी है। कुशवाहा ने दावा किया है कि महागठबंधन में बड़ी टूट होने वाली है। उनका कहना है कि खरमास खत्म हो चुका है और बहुत जल्दी ही महागठबंधन में बड़ी टूट दिखेगी। इससे पहले भाजपा के बिहार प्रभारी भूपेंद्र यादव भी महागठबंधन में जल्द ही बड़ी टूट का दावा कर चुके हैं। हालांकि राजद की ओर से इन बयानों पर कड़ी प्रतिक्रिया जताई गई है।

ये भी पढ़ें:राम मंदिर के लिए आज से चंदा अभियान, 11 बजे राष्ट्रपति से मिलेंगे VHP पदाधिकारी

महागठबंधन में बड़ी टूट का दावा

जदयू की प्रदेश कार्यकारिणी की हाल में हुई बैठक में उमेश कुशवाहा को नया प्रदेश अध्यक्ष चुना गया था। जदयू का प्रदेश अध्यक्ष बनने के बाद से कुशवाहा महागठबंधन पर हमलावर रुख अपनाए हुए हैं। अब उन्होंने दावा किया है कि महागठबंधन को टूटने से कोई भी नहीं बचा सकता।

उन्होंने कहा कि खरमास खत्म होने के बाद अब महागठबंधन में टूट होना निश्चित है। उन्होंने कहा कि राजद नेताओं को जल्द ही अपनी ताकत और एकजुटता का पता लग जाएगा क्योंकि उनकी पार्टी में बड़ी टूट अवश्यंभावी है।

मांझी ने कसा राजद पर तंज

दूसरी ओर हम के मुखिया और राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी ने भी राजद नेता श्याम रजक के बहाने पार्टी पर तंज कसा है। मांझी ने बिना किसी का नाम लिए तंज कसते हुए 14 तारीख की याद दिलाई और पूछा कि जदयू के 17 विधायकों को साथ लेकर महागठबंधन की सरकार बनाने का दावा करने वाले राजद के बड़े नेता आखिर कहां गए।

राजद नेता ने किया था यह दावा

राजद नेता श्याम रजक ने पिछले दिनों दावा किया था कि खरमास खत्म होने के बाद जदयू के 17 विधायक टूटकर राजद के साथ आने को तैयार हैं। मांझी ने कहा कि हमें पता करना चाहिए कि यह दावा करने वाले नेता खुद राजद में हैं या निकल लिए।

अरुणाचल प्रदेश में जदयू के 6 विधायकों के भाजपा में शामिल होने के बाद राजद नेता और बिहार सरकार में पूर्व मंत्री श्याम रजक ने जदयू में बड़ी टूट का दावा किया था।

pm-modi-nitish-kumar pm-modi-nitish-kumar (PC: social media)

उनका कहना था कि जदयू के 17 विधायक किसी भी समय टूटकर राजद में शामिल हो सकते हैं। उनका यह भी कहना था कि भाजपा की कार्यशैली से नाराज होकर जदयू विधायक बिहार के एनडीए सरकार को गिराना चाहते हैं।

रजक के दावे पर तीखी प्रतिक्रिया

रजक के इस दावे के बाद बिहार की सियासत में उबाल आ गया था। जदयू नेता और प्रवक्ता राजीव रंजन ने रजक के दावे पर तीखी प्रतिक्रिया जताते हुए कहा कि वे भ्रामक बयान देकर लोगों को भरमाने की कोशिश कर रहे हैं। उन्होंने जदयू के पूरी तरह एकजुट होने का दावा करते हुए कहा कि बिहार में एनडीए की सरकार अपना 5 साल का कार्यकाल जरूर पूरा करेगी।

चुनाव के बाद सेंध लगाने की कोशिशें

दरअसल बिहार की सियासत में इन दिनों राजद और जदयू की ओर से एक-दूसरे के दलों में बड़ी टूट होने का दावा किया जा रहा है। विधानसभा चुनाव नतीजों के बाद मिली हार को राजद नेता अभी तक नहीं पचा सके हैं और वे लगातार जदयू में टूट का दावा कर रहे हैं।

ये भी पढ़ें:छत्तीसगढ़: नक्सलियों ने की सरपंच के पति की पीट-पीटकर हत्या, पर्ची में बताई वजह

दूसरी ओर जदयू नेता राजद नेताओं को ही कठघरे में खड़ा करके उनके विधायकों के टूटने का दावा कर रहे हैं। सियासी जानकारों का मानना है कि पर्दे के पीछे कोई न कोई खेल जरूर चल रहा है। आने वाले दिनों में कुछ विधायकों के इधर से उधर होने की संभावना से इनकार नहीं किया जा सकता।

सियासी जानकारों के मुताबिक मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की सरकार को मामूली बहुमत हासिल है। ऐसे में एक-दूसरे के दलों में सेंध लगाने की कोशिशें चल रही हैं।

रिपोर्ट- अंशुमान तिवारी

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Roshni Khan

Roshni Khan

Next Story