509 करोड़ की लागत से बना था पुल, CM नीतीश के उद्घाटन से पहले ही हुआ धराशायी

बिहार में पुल निर्माण में धांधली करने का मामला सामने आया है। बताया जा रहा है कि बुधवार को जिस पुल का उद्घाटन सीएम नीतीश कुमार करने वाले थे वो पहले ही टूट गया है।

बिहार में टूटे हुए पुल और सीएम नीतीश कुमार की फ़ाइल फोटो

गोपालगंज: बिहार में पुल निर्माण में धांधली करने का मामला सामने आया है। बताया जा रहा है कि बुधवार को जिस पुल का उद्घाटन सीएम नीतीश कुमार करने वाले थे वो पहले ही टूट गया है।

मामला गोपालगंज से जुड़ा है, जहां बंगरा घाट महासेतु का सीएम नीतीश कुमार बुधवार को उदघाटन करने वाले हैं। इस महासेतु का अप्रोच पथ करीब 50 मीटर के दायरे में ध्वस्त हो गया है।

ध्वस्त अप्रोच पथ को उद्घाटन से पहले दोबारा दुरुस्ती करने की कवायद की जा रही है। बिहार राज्य पुल निर्माण निगम के आला पदाधिकारी से लेकर संवेदक मौके पर पहुंचे हुए हैं।

बिहार के सीएम नीतीश कुमार की फ़ाइल फोटो
बिहार के सीएम नीतीश कुमार की फ़ाइल फोटो

ये भी पढ़ें: UP में अब हारेगा कोरोना: दुकानदारों समेत इन सभी की होगी जांच, मिला निर्देश

निर्माण निगम के इंजीनियर ने दी ये सफाई

प्राप्त जानकारी के मुताबिक गोपालगंज के बैकुंठपुर में 7 जगहों पर सारण बांध टूटा था। इसी बांध के टूटने के बाद बंगरा घाट महासेतु से करीब 5 किलोमीटर दूर अप्रोच पथ पानी के दबाव से अचानक ध्वस्त हो गया।

अब यहां पर सैकड़ों की संख्या में मजदूर लगाये गए हैं और दो-दो जीएसबी लगाकर इसे दोबारा चालू करने काम तेज गति से चल रहा है। जहां यह अप्रोच पथ टूटा है वो इलाका सारण के पानापुर के सतजोड़ा बाजार के समीप पड़ता है। यह इलाका छपरा के पानापुर में पड़ता है।

ध्यान देने वाली बात ये है कि यह अप्रोच पथ 12 दिन पहले टूटा था। इस टूटे अप्रोच पथ को दोबारा से चलने लायक बनाने का प्रयास किया जा रहा है। इस बाबत जब बिहार राज्य पुल निर्माण निगम के डिप्टी चीफ इंजिनियर शाकिर अली से बात की गई तो उनका कहना था कि ये एक सामान्य घटना है।

ये भी पढ़ें: सुशांत केस: रिया चक्रवर्ती से ED की पूछताछ, इन सवालों के देने होंगे जवाब

पुल की फ़ाइल फोटो
पुल की फ़ाइल फोटो

509 करोड़ रूपये हुए खर्च

उन्होंने कहा कि महासेतु के निर्माण और इसके साथ अप्रोच पथ के निर्माण में किसी भी तरह के नकली मटेरियल का इस्तेमाल नहीं किया गया है। जो भी काम हुआ है उसमें गुणवत्ता का ख़ास तौर पर ध्यान रखा गया है। सीएम के कार्यक्रम से पहले इस पुल को ठीक कर लिया जाएगगा।

अब सवाल ये उठता है कि बंगरा घाट महासेतु के छपरा साइड में करीब 11 किलोमीटर और मुजफ्फरपुर साइड में 8 किलोमीटर लम्बा अप्रोच पथ का निर्माण किया गया है जिस पर करीब 509 करोड़ रूपये खर्च किये गए है तो फिर आखिर 509 करोड़ की लागत से बने महासेतु और इसका अप्रोच पथ उदघाटन के साथ ही क्यों टूटने लगे? लेकिन इसका जवाब शायद आज पुल निर्माण निगम के अधिकारियों के पास नहीं है।

ये भी पढ़ें: Whatsapp में आ रहे ये गजब के फीचर्स, इनके बारे में यहां जानिए सबकुछ

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App