मॉब लिंचिंग से कांप उठा बिहार, भड़के लोगों ने आरोपी का किया ये हाल

सोमवार सुबह (18 जनवरी) बोरिया डीह स्थित बूढ़ी गंडक नदी के किनारे सोनू का शव मिला। उसके हाथ-पैर बंधे हुए थे, जबकि गले में फंदा लगा था। 

Published by suman Published: January 18, 2021 | 7:10 pm
mob

सोशल मीडिया से फोटो( सांकेतिक फोटो)

समस्तीपुर : बिहार के समस्तीपुर जिले के विभूतिपुर में गांव वालों की भीड़ ने हत्या के आरोपी को पीट-पीट कर मौत के घाट उतार दिया है। इसके बाद से ही पूरे इलाके में तनाव पसर गया है। इलाके से  ये एक बड़ी खबर है।  मॉब लिचिंग की इस वारदात से यहां सनसनी फैल गई है ।

 

पूरी घटना

समस्तीपुर जिले के विभूतिपुर के बोरिया में सोनू कुमार नाम का एक युवक 14 जनवरी को लापता हो गया। काफी तलाश करने के बाद भी उसका कुछ पता नहीं चला। पिता महेश महतो का कहना था कि उसके बेटे का किसी से कोई विवाद नहीं था। हालांकि, उन्होंने कई लोगों पर उनके बेटे को अगवा करने का शक जाहिर किया था। सोमवार सुबह (18 जनवरी) बोरिया डीह स्थित बूढ़ी गंडक नदी के किनारे सोनू का शव मिला। उसके हाथ-पैर बंधे हुए थे, जबकि गले में फंदा लगा था।

यह पढ़ें…शुभेंदु की ममता को ललकार, चुनावी सीट पर घमासान, राजनीति छोड़ने पर बड़ा ऐलान

बताया जा रहा है कि सोनू कुमार के शव को प्लास्टिक में लपेटकर नदी किनारे मिट्टी में दबा दिया गया था। आरोपी अपनी योजना में पूरी तरह कामयाब हो गए थे, लेकिन किसी जानवर ने शव वाली जगह की मिट्टी खोद दी, जिससे शव नजर आने लगा। इसके बाद ग्रामीण मौके पर पहुंचे और खुदाई की तो सोनू का शव मिल गया।

 

खबरों के अनुसार सोनू कुमार का शव मिलने के बाद लोग भड़क गए। उनका आरोप था कि पुलिस ने समय पर कार्रवाई नहीं की, जिसके चलते सोनू की जान चली गई। इसके बाद उन्होंने अपहरण के आरोपियों में शामिल सोनू राय नाम के युवक को पकड़ लिया।  आरोपियों में शामिल एक युवक का नाम भी सोनू है।

पूरे इलाके में सनसनी

आरोपी सोनू राय को पकड़ने के बाद लोगों ने उसे पीटना शुरू कर दिया, जिससे मौके पर ही उसकी मौत हो गई। वहीं, लोगों ने एक अन्य आरोपी को भी पीट-पीटकर अधमरा कर दिया। पुलिस ने उसे इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया है, जहां उसकी हालत गंभीर बनी हुई है।

यह पढ़ें…सीरो सर्वे का चौंकाने वाला दावा, ऐसे लोगों में कोविड-19 से संक्रमित होने का खतरा कम

इस मामले की सूचना मिलने के बाद रोसड़ा डीएसपी पुलिस फोर्स के साथ मौके पर पहुंच गए। उन्होंने लोगों को किसी तरह शांत कराया। वहीं, हालात पर काबू पाने के मकसद से गांव में पुलिस तैनात कर दी गई है।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App