इमोशनल हुए रतन टाटा: शेयर किया पोस्ट, कहा सभी नीचा दिखाने में लगे हैं

साल 2020 सभी के लिए काफी बुरा साबित हुआ। इस साल की शुरुआत से ही लगातार कोई न कोई बुरी खबर सामने आ रही है। कोरोना वायरस हो या दिग्गज एक्टर्स की मौत, या फिर भारत-चीन सीमा विवाद सभी ने तमाम जिंदगियों को प्रभावित किया है।

मुंबई: साल 2020 सभी के लिए काफी बुरा साबित हुआ। इस साल की शुरुआत से ही लगातार कोई न कोई बुरी खबर सामने आ रही है। कोरोना वायरस हो या दिग्गज एक्टर्स की मौत, या फिर भारत-चीन सीमा विवाद सभी ने तमाम जिंदगियों को प्रभावित किया है। और इन सब के चलते सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर लोगों के बीच काफी नफरत भरे पोस्ट देखने को मिल रहे हैं।

यह भी पढ़ें: योगी नौकरी देने का दम भर रहे हैं और लोग आत्महत्या कर रहे: प्रियंका गांधी

रतन टाटा ने नफरत को रोकने का किया आह्वान

अभी हाल ही का मुद्दा उठाए तो एक्टर सुशांत सिंह राजपूत की मौत के बाद से बॉलीवुड इंडस्ट्री में नेपोटिज्म, भाई-जातिवाद को लेकर एक तिखी बहस छिड़ गई है। हर कोई एक-दूसरे पर निशाना साध रहा है। ऐसे में भारत के दिग्गज बिजनेसमैन और टाटा संस के चेयरमैन रतन टाटा ने ऑनलाइन चल रहे इस नफरत और धमकियों वाले पोस्ट को रोकने का आह्वान करते हुए एकता की बात कही है।

यह भी पढ़ें: भूकंप ने मचाई तबाही: 12 घंटे में 2 बार बजी खतरे की घंटी, सहम गए लोग

इंस्‍टाग्राम अकाउंट पर शेयर किया इमोशनल पोस्ट

बिजनेसमैन रतन टाटा ने अपने इंस्‍टाग्राम अकाउंट पर एक इमोशनल पोस्‍ट शेयर किया है। जिसमें उन्होंने ऑनलाइन कम्‍युनिटी को मैसेज देने के साथ ही आसान शब्‍दों में बड़ा मैसेज भी दिया है। उन्होंने इस पोस्ट में कहा कि यह साल किसी ना किसी तरह से सभी के लिए चुनौतियों से भरा है। मैं देख रहा हूं कि ऑनलाइन ग्रुप्स एक-दूसरे के लिए हानिकारक हो रहे हैं और एक-दूसरे को नीचा दिखा रहे हैं। ऑनलाइन कम्‍युनिटी तुरंत ही किसी भी नतीजे पर पहुंच रही है।

यह भी पढ़ें: पुलिस पर पथराव: सड़क पर उतरे भीम आर्मी के कार्यकर्ता, मचाया उपद्रव

View this post on Instagram

In past difficult times, entrepreneurs have displayed far sightedness and creativity that could not have been believed to exist. These became the flagpoles of innovation and new technology today. I hope that the ability to find another way to build a product, run a company, run operations a better way, will emerge as an outcome of the current crisis. I won’t downplay the challenges and the difficulties embedded in these current times. But my confidence remains high in the inventive nature and the creativity of entrepreneurs today who will find ways to enable new or modified enterprises that would be the benchmarks of tomorrow. It can all start on a clean sheet of paper that looks at ways of doing things that were never thought of before. This crisis will force entrepreneurs to adapt and create.

A post shared by Ratan Tata (@ratantata) on

यह समय एक-दूसरे को नीचा दिखाने का नहीं

उन्होंने आगे लिखा कि मेरा मानना है कि यह साल विशेष रूप से हम सभी से एकजुट और एक-दूसरे के लिए मददगार रहने का आह्वान करता है। यह समय एक-दूसरे को नीचा दिखाने का नहीं, बल्कि एक-दूसरे के प्रति अधिक संवेदनशीलता दिखाने, अधिक दयालुता दिखाने और समझदारी और धैर्य दिखाने का वक्त है। जो कि, आजकल देखने को नहीं मिल रहा है।

मुझे आशा है कि इन बातों का सब पर असर होगा

उन्होंने आखिरी में कहा कि मेरी ऑनलाइन उपस्थिति लिमिटेड है। लेकिन मुझे आशा है कि इन बातों का सब पर असर होगा। साथ ही नफरत और धमकी के बजाय यहां हर किसी का समर्थन किया जायेगा।

View this post on Instagram

🤍

A post shared by Ratan Tata (@ratantata) on

यह भी पढ़ें: हाई कोर्ट ने बदली आरोपियों की सजा, लड़की का पिता बरी, मौत बनी उम्र कैद

देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें ।