कोरोना पर RBI का बड़ा फैसला, बाजार में 1 लाख करोड़ की नगदी बढ़ाई

आरबीआई ने बैंकिंग तंत्र को मजबूत करने के लिए बड़ा फैसला लिया है। केंद्र बैंक ने बाजार में एक लाख करोड़ रुपये का अतिरिक्त धन छोड़ने की घोषणा की है।

नई दिल्ली: भारत कोरोना से बेहद बुरी तरह प्रभावित है। इस वायरस के कारण न केवल लोगों की जान खतरे में है बल्कि अर्थव्यवथा पर भी दबाव बना हुआ है। इसी के चलते अब आरबीआई ने बैंकिंग तंत्र को मजबूत करने के लिए बड़ा फैसला लिया है। केंद्र बैंक ने बाजार में एक लाख करोड़ रुपये का अतिरिक्त धन छोड़ने की घोषणा की है। इसके साथ ही RBI यह भी कहा कि जरूरत पड़ने पर इस तरह के कदम आगे भी उठाएगा।

RBI ने बाजार में 1 लाख करोड़ रुपए की नकदी बढ़ाई

आरबीआई ने सोमवार को बाजार में नकदी बढ़ाने की ओर पहल करते हुए ये घोषणा की। आरबीआई ने रेपो ऑपरेशन की प्रक्रिया के तहत सोमवार को बाजार में 50 हजार करोड़ रुपये डाले, तो वहीं अब बुधवार को भी समान किस्तों को अंजाम दिया जाएगा। यानी आरबीआई रेपो ऑपरेशन के तहत बाजार में एक लाख करोड़ का निवेश करेगा।

ये भी पढ़ें: बेलआउट पैकेज का एलान जल्द: महामारी से लड़ाई में ऐसे खर्च होगी रकम

नकदी जरूरत को पूरा करने के लिए RBI ने उठाया कदम

दरअसल कोरोना के कारण जैसे हालात भारत में बने हैं, ऐसे में बाजार की नगदी की जरूरत को पूरा करने के लिए केंद्रीय बैंक ने रेपो ऑपरेशन करने का फैसला लिया है। यह ऑक्शन एक लाख करोड़ रुपए का होगा और इसे दो समान किस्तों में अंजाम दिया जाएगा।

ये भी पढ़ें: रिलायंस की बड़ी पहल, कोरोना से भारत की लड़ाई में कई तरह की मदद का किया एलान

rbi

रेपो ऑक्शन की ये प्रक्रिया

दोनों ऑक्शन की अवधि समान रूप से 16 दिनों की होगी। दोनों किस्तों के लिए वापसी की तारीख 8 और 9 अप्रैल होगी।नियम पहले जैसे ही रहेंगे। हालाँकि ऑक्शन में योग्य प्रतिभागियों के साथ स्टैंडअलोन प्राइमरी डीलर भी हिस्सा ले सकेंगे।

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।